अब इन कैदियों के लिए बनेगी अस्थाई जेल, इस खतरे को भांपते हुए किया जा रहा ये इंतजाम, वजह है ये

ताकि अन्य बंदियों को सुरक्षित किया जा सके।

By: Arvind Kumar Verma

Updated: 23 Aug 2020, 07:28 PM IST

कानपुर देहात-जनपद कानपुर देहात में कोरोना का प्रकोप बढ़ने से मरीजों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। इस महामारी में डीएम कार्यालय सहित अधिकांश सरकारी दफ्तर व जिला जेल में भी कोरोना का प्रकोप पहुंच गया। जिसके चलते जिले के अकबरपुर में स्थित आईटीआई में अस्थायी जेल बनाए जाने का फैसला लिया गया है। आने वाले नए कैदियों से संक्रमण फैलने की आशंका को लेकर अब नए बंदियों को अस्थाई जेल में रखा जाएगा। ताकि अन्य बंदियों को सुरक्षित किया जा सके। यहां पर संक्रमित नए कैदियों को रखा जाएगा और इलाज भी किया जाएगा। इसके लिए पूरी तैयारी की जा रही है। अस्थाई जेल में स्वास्थ विभाग व जेल टीम रहेगी।

कानपुर देहात में कोरोना का प्रकोप जारी है। यहां तक कि इस वायरस ने माती स्थित जिला कारागार में कैदियों को भी अपनी चपेट में लेे लिया है। हालांकि उनके इलाज के लिए जेल के अंदर एल-1 अस्पताल बनाया गया है, जिसमें सभी संक्रमितों का इलाज व देखरेख की जा रही है। मगर आगे संक्रमण के खतरे को देखते हुए अब अस्थायी जेल बनाने की कवायद शुरू कर दी गई है। माना जा रहा है कि जेल में नए कैदी के अंदर आने से यह संक्रमण फैला है। अब अस्थायी जेल बन जाने से नए कैदियों को कोरोना प्रोटोकाल के तहत यहीं पर रखा जाएगा। सुरक्षा के दृष्टिकोण से भी यह इमारत सुरक्षित है।

बताया गया कि पकड़े गए नए कैदी का एंटीजन टेस्ट होगा और संक्रमित होने पर यहीं पर उसे रखा जाएगा, इससे माती जेल में संक्रमण पहुंचने का खतरा भी नहीं होगा। सीएमओ डॉ. राजेश कटियार ने बताया कि आइटीआइ में अस्थायी जेल बनाने का फैसला लिया गया है। इसके लिए जल्द ही तैयारी शुरू कर दी जाएगी। आईटीआई की अस्थायी जेल में स्वास्थ्य विभाग व जेल की मेडिकल टीम तैनात रहेगी। संक्रमित कैदियों के खाने, रहने से लेकर इलाज तक का सारा इंतजाम यही टीम करेगी। कैदी की रिपोर्ट निगेटिव आ जाने के बाद उसे यहां से माती जेल भेजा जाएगा।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned