घर से अचानक गायब हुए व्यापारी का शव नदी में मिला, इस तरह दिया गया घटना को अंजाम

व्यापारी के पास रखा करीब 50 लाख का सोना व कई लाख रुपए गायब हैं, इसी लालच में हत्या की आशंका है।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 05 Oct 2020, 11:56 PM IST

कानपुर देहात-तीन दिन से गायब व्यापारी का आज शव मिलते ही हड़कंप मच गया। जिसके बाद पुलिस महकमे में भी सनसनी फैल गई। दरअसल मृतक कि पत्नी उन्नाव जनपद के सिपाही पद पर तैनात है। वहीं व्यापारी सुरेश ब्याज पर पैसे उठाने का काम करता था। पुलिस के मुताबिक उसके है दोस्तों ने पार्टी के शराब पिलाकर नशे में करके उसकी हत्या कर दी। वहीं सेंगुर नदी में उसका शव दिखाई देने पर ग्रामीणों में सनसनी फ़ैल गई। दरअसल कानपुर देहात के पुखरायां के आंबेडकर नगर वार्ड से गायब सूद पर पैसा उठाने वाले व्यापारी सुरेश कुमार की उसके ही दोस्तों ने शराब पार्टी करने के बाद हत्या कर दी। व्यापारी के पास रखा करीब 50 लाख का सोना व कई लाख रुपए गायब हैं, इसी लालच में हत्या की आशंका है। पुलिस ने चार आरोपितों को दबोच कर जगदीशपुर गांव के निकट सेंगुर नदी से शव बरामद किया। सरगना समेत तीन आरोपितों की तलाश में छापेमारी जारी है।

पुखरायां के आंबेडकर नगर निवासी 35 वर्षीय सुरेश कुमार उर्फ लाखन घर के निचले हिस्से में अकेले रहते थे। उनकी पत्नी शैफाली महिला उन्नाव में सिपाही के पद पर तैनात हैं। दो अक्टूबर की रात में वह संदिग्ध परिस्थितियों में घर से गायब हो गए। भाई राजप्रताप सिंह ने पुलिस को भी इसकी सूचना दी, जिस पर मामला गुमशुदगी में दर्ज हो गया। तब से पुलिस उनकी तलाश कर रही थी। पति के गायब होने के बाद घर पहुंची पत्नी ने उनके दोस्त पुखरायां के प्रद्युम्न गुप्ता, सत्यम सचान सहित पांच लोगों के खिलाफ हत्या की आशंका जताते हुए मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने प्रद्युम्न, अभिषेक तिवारी, राघवेन्द्र व योगेन्द्र को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो हत्या का खुलासा हो गया। चारो के बताने पर पुलिस ने सेंगुर नदी में बोरे में पत्थर भर कर फेंका गया। जिसके बाद का शव बरामद किया गया।

Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned