रहस्यमय ढंग से गायब हुआ युवक आया घर वापस, दौड़ी खुशी की लहर, बोला खींच ले गई थी कोई शक्ति

हालांकि घर लौटने के बाद युवक किसी को भी कुछ बताने से कतरा रहा है।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 07 Mar 2020, 11:43 PM IST

कानपुर देहात-दिल्ली को देखने की मंशा थी कि आखिर दिल्ली कैसी है, वहां के लोग कैसे है। बस इतनी सी चाहत ने उसे पागल बना दिया। फिर वह एकाएक घर से किसी बहाने निकलकर गायब हो गया। जबकि उसके चार दिन बाद ही उसकी शादी थी। इस बात को लेकर घर में सभी परेशान हो गए। खुशियों की बहार तब आईं, जब वह बीते दिन अचानक ही घर वापस आ पहुंचा तो मां सहित परिजन उससे लिपटकर खुशी में तो पड़े। हालांकि घर लौटने के बाद युवक किसी को भी कुछ बताने से कतरा रहा है। केवल इतना कहता है कि उसे कोई शक्ति खींच ले गई थी। घर लौटे किशोर की हालत भी कुछ ऐसी ही है। वह दिल्ली देखने की ललक में घर से भाग गया था। उसने कहा कि वहां पहुंचने के बाद उसे घर की याद जरूर आ रही थी।

कानपुर देहात के रूरा थानाक्षेत्र के जिनई बनीपारा गांव में क्रिकेट टूर्नामेंट देखने के दौरान गायब हुआ किशोर 47 दिन बाद नाटकीय ढंग से घर लौटा तो आसपास गांव के लोग उसे देखने को पहुंच रहे हैं। वहीं शादी समारोह के चार दिन पूर्व रहस्यमय ढंग लापता हुए निगोहिया का युवक हरियाणा के हिसार में पहुंच जाने की बात पर गुमसुम है। बनीपारा निवासी रामनारायण का पुत्र सुशील उर्फ लउआ शिवरात्रि पर्व के दौरान रहस्यमय ढंग से लापता हो गया था। जबकि उसकी बाइक बनीपारा स्टैंड से मिली थी। पुलिस व परिजन के साथ बुधवार को घर लौटने के बाद से वह बहुत शांत है। किशोर ने परिजनो को बताया कि मैच देखने के दौरान मन में आया कि दिल्ली कैसा होगा क्यों न घर से भाग कर दिल्ली चला जाए। वहीं से ट्रेन में बैठकर चला गया था।

उसने बताया कि वहां जाने के बाद उसे कुछ आभास ही नहीं रहा। इसलिए वह वहीं टहलता रहा। पुत्र के घर आने पर घरवाले खुश हैं, लेकिन किशोर कोई अन्य जानकारी देने से कतरा रहा है। वहीं तिलक व शादी से कुछ दिन पहले ही बनीपारा के मेले से रहस्यमय ढंग से गायब हुआ निगोहिया का युवक जितेंद्र घर लौटने के बाद से गमशुम है। उसने केवल इतना बताया कि कोई अदृश्य शक्ति के उकसावे पर मेला वाले दिन पहले अकबरपुर से झांसी फिर टूंडला और नई दिल्ली होकर हरियाणा के हिसार में पहुंच गया था। छोटे भाई नितेन्द्र उर्फ गोलू ने बताया कि फेसबुक के द्वारा भाई का पता चला था। उसने बताया कि भाई के गायब होने से 23 फरवरी को तिलक व 25 फरवरी को शादी का कार्यक्रम नहीं हो पाया है। बताया कि घर लौटे भाई की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है इसलिए वह गुमसुम लेटा है। कुछ बोलता नहीं है। हालत में सुधार होने पर शादी का कार्यक्रम तय किया जाएगा।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned