दो दिन से भूखे परिवार ने लगाई गुहार तो मदद को जा पहुंची पुलिस

कानपुर पुलिस ने दिखाई दरियादिली, सब्जी, राशन और दूध पहुंचाया
नकद पैसे भी दिए, दोबारा जरूरत पडऩे पर मदद का भरोसा दिया

कानपुर। लॉकडाउन में कानपुर पुलिस का दूसरा चेहरा तब देखने को मिला जब दो दिन से भूखे परिवार ने मदद से लिए पुलिस को फोन मिलाया तो तुरंत पुलिसकर्मी राशन और खाने पीने का सामान लेकर जा पहुंचे। वहां जाकर पता चला कि वह एक मजदूर का परिवार है जो फैक्ट्रियों में मजदूरी कर परिवार का पेट पालता था, लेकिन लॉकडाउन के चलते काम बंद हो गया तो पेट भरने की समस्या खड़ी हो गई। जिस कारण उसने पुलिस से मदद की गुहार लगाई।

११२ पर फोन आते ही सक्रिय हुई पुलिस
११२ कंट्रोल रूम पर पनकी के गंभीरपुर से फोन आया और उसने बताया कि वह और बच्चे दो दिनों से भूखे हैं। घर पर खाने को कुछ भी नहीं है। कुछ खरीदने को पैसे भी नहीं हैं। यह सुकर पनकी थाने की पीआरवी नंबर 0409 के पुलिसकर्मी गंभीरपुर गांव पहुंचे। परिवार वालों से मिले। सब्जी, राशन और दूध उपलब्ध कराया। उसके बाद कुछ नकद पैसे देकर मदद भी की। साथ ही आश्वासन दिया कि अगर दोबारा जरूरत पड़े तो बेफिक्र होकर कॉल कर लेना।

लॉकडाउन से लाचार हुआ परिवार
पुलिस वालों ने इस लाचारी की वजह पूछी तो वह बोला कि फैक्ट्रियां बंद हैं, काम नहीं मिल रहा। वह फैक्ट्रियों में मजदूरी कर गुजर बसर करते हैं। काम ठप हो गया। जो जमा पूंजी थी वो सप्ताह भर में खत्म हो गई। अब एक-एक पहर की रोटी मिलना मुश्किल हो गया है।

फल और राशन बांटा
दूसरी ओर बर्रा इंस्पेक्टर रणजीत राय ने क्षेत्र के गरीब मजदूरों आदि को फल वितरित किये। कुछ को सब्जियां भी खरीदकर दीं। उधर सीसामऊ सीओ त्रिपुरारी पांडेय ने अपने सर्किल यानी तीन थाना क्षेत्रों में राशन, सब्जी और दूध वितरित किया। साथ ही उन्होंने फूड के पैकेट भी बंटवाएं। उन्होंने बताया कि जितना संभव होगा वह इस तरह से हर रोज लोगों की मदद करते रहेंगे।

समस्या होने पर करें कॉल
कानपुर के पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने बताया है कि पुलिस हर संभव मदद करने में लगी है। कोई भी व्यक्ति अगर किसी समस्या से परेशान है तो 112 नंबर पर कॉल कर सकता है। वहीं अन्य जो प्रशासन स्तर पर जो कंट्रोल रूम के नंबर जारी किये गए उन पर भी संपर्क किया जा सकता है।

आलोक पाण्डेय Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned