किशोरी को महिला के चंगुल से छुड़ाने को लोगों ने किया पथराव

किशोरी को महिला के चंगुल से छुड़ाने को लोगों ने किया पथराव

Alok Pandey | Publish: May, 19 2019 11:24:32 AM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

मौके पर पहुंची पुलिस ने घर में घुसकर किशोरी को बचाया,
किशोरी ने लगाया महिला पर गंदा काम कराने का आरोप

कानपुर। एक मां ने अपनी ही बेटी को ४० हजार में बेच दिया और खरीदने वाली महिला ने उसे घर में बंधक बनाकर रखा और उससे महीनों तक गंदा काम करवाया। किसी तरह मौका पाकर किशोरी उसके चंगुल से छूटकर बाहर आयी और मोहल्लेवालों को आपबीती सुनाई। लोगों ने पुलिस को बुलाया और महिला की शिकायत की। पुलिस ने बच्ची को मेडिकल के लिए भेजकर मामले की जांच शुरू की।

बच्ची की हालत देख चौंक पड़े लोग
मामला काकादेव के नवीन नगर का है। यहां के एक घर से १२ वर्षीय किशोरी बाहर आयी तो उसे देख मोहल्ले के लोग चौंक पड़े। उसकी हालत खराब थी। बच्ची रो रही थी और उसकी आंख काली थी औरचेहरे से लेकर पूरे शरीर पर चोटों के निशान थे। देखने से ही लग रहा था कि उसे गंभीर यातना दी गई है।

मालकिन करवाती गंदा काम
किशोरी ने बताया कि उसकी मां ने ४० हजार में उसे बेच दिया और मालकिन उसे घर में कैद किए हुए है। वह उससे गंदा काम करवाती है और मना करने पर मारती है और खाने को भी नहीं देती। किशोरी के शरीर पर चोट के निशान उस पर हुए अत्याचार की गवाही दे रहे थे।

मोहल्लेवालों और महिला में हुआ पथराव
मोहल्लेवालों को पीडि़त किशोरी अपनी बात बता ही रही थी कि वह महिला घर से निकली और बच्ची को घसीटते हुए घर में ले गई। जब मोहल्लेवालों ने इसका विरोध किया तो महिला उन पर पथराव करने लगी। जवाब में मोहल्ले के लोगों ने भी पत्थर फेंके। इस पथराव में कई लोग घायल भी हो गए।

पुलिस ने बच्ची को छुड़ाया
पथराव की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घर में घुसकर किशोरी को छुड़वाया। पुलिस का कहना है कि बच्ची के आरोप गंभीर हैं इनकी जांच की जाएगी। पुलिस ने बच्ची को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया है, और मामले की जांच शुरू कर दी है। जिसके बाद आरोपी महिला पर कार्रवाई की जाएगी।

जेल में मिली थी बच्ची की मां से
पुलिस ने बताया कि आरोपी महिला को २०१७ में एक प्रॉपर्टी विवाद के चलते सीबीआई ने गिरफ्तार किया था और लखनऊ जेल में रखा गया था। महिला का पति लापता है। जेल में ही उसे एक और गोंडा निवासी महिला मिली, वह अपने पति की हत्या में आरोपी थी। दोनों में दोस्ती हो गई। महिला जेल से छूटी तो बाद में सहेली को भी छुड़वा लिया और फिर अक्टूबर २०१८ में उसकी बेटी को अपने साथ नवीन नगर ले आयी थी। तब से वह यहां पर रह रही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned