रानी मुखर्जी से आगे निकले शहर के युवा, रिलीज से पहले अपने एलबम में दिखायी छपाक की कहानी

शहर के युवाओं की टीम ने तैयार किया एलबम ‘नूर’
छपाक की कहानी से ली प्रेरणा, दो दिन में किया शूट

कानपुर। एसिड अटैक पीडि़ता के संघर्ष की कहानी को दर्शाने वाली रानी मुखर्जी की फिल्म छपाक रिलीज होने में अभी कुछ दिन बाकी है, कि उससे पहले ही शहर के युवाओं की टीम ने एक एलबम तैयार किया है, जिसे नाम दिया गया है ‘नूर’। यह एलबम भी छपाक की कहानी से ही प्रेरित है।

एलबम में दिखा शहर का हुनर
इस एलबम की खासियत यह है कि इसमें शहर के युवाओं का हुनर भी देखने को मिला। शहर के सुमित अग्रवाल ने इसका कॉनसेप्ट दिया। इसमें इन्होंने खुद बोल दिए और गाया भी खुद है। एलबम नूर की कहानी में फीमेल कलाकार अद्वितीय वर्मा और मेल कलाकार तनिष्क त्रिपाठी हैं। अद्वितीय वर्मा बताती हैं कि एलबम दो दिन में ही शूट हो गया है।

यह है एलबम की कहानी
‘नूर’ एलबम में एसिड अटैक पर छोटी सी कहानी दिखाने का प्रयास किया गया है। इसमें एक युवक और युवती का प्रेम प्रसंग होता है। युवती जब किसी और युवक की ओर आकर्षित होने लगती है तो प्रेमी एसिड अटैक कर देता है। इस एलबम को सुमित अग्रवाल ने कम्पोज किया है। इनके एक एलबम की प्रस्तुति निजी टीवी चैनल पर हो चुकी है। नए एलबम की शूटिंग सरसैया घाट और बिराहना रोड की गलियों में की गई। इसका डॉयरेक्शन अनुज तिवारी ने किया है।

छपाक में भी शहर का हुनर
शहर के हुनर की हर ओर चमक है। जिस छपाक फिल्म की कहानी से प्रेरणा लेकर युवाओं ने एलबम बनाया है, उस फिल्म में भी शहर के ही एक कलाकार ने अभिनय किया है। फिल्म में मुख्य अभिनेता विक्रांत मेसी हैं और उनके दोस्त की भूमिका में हैं शुक्लागंज के देवास दीक्षित। देवास का परिवार इस समय भले ही शुक्लागंज में रहता हो, लेकिन वे कानपुर में ही जन्मे और पले बढ़े।

आलोक पाण्डेय
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned