एमबीबीएस की ५०० सीटों वाला कानपुर में देश का पहला मेडिकल कालेज

एमबीबीएस की ५०० सीटों वाला कानपुर में देश का पहला मेडिकल कालेज

Alok Pandey | Publish: Aug, 23 2019 03:25:33 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

नए विभाग इमरजेंसी मेडिसिन और ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन को मिली हरी झंडी

अन्य विभागों में भी बढ़ाई गई पीजी सीटों की संख्या, मिलेंगे पर्याप्त रेजीडेंट

कानपुर। मेडिकल कॉलेज को इंस्टीट्यूट बनाए जाने का रास्ता साफ होने के बाद अब इसे उच्चीकृत किया जा रहा है। जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज एमबीबीएस की पांच सौ सीटों का पायलट प्रोजेक्ट चलाने वाला देश का पहला मेडिकल कॉलेज होगा। प्राचार्य डॉ. आरती लालचंदानी ने इसकी पुष्टि की है।

नए विभाग को मिली मंजूरी
मेडिकल कॉलेज में नए विभाग इमरजेंसी मेडिसिन और ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन को हरी झंडी मिल गई है। अगले साल से इन विभागों में पीजी के प्रवेश शुरू हो जाएंगे। इसके अलावा अन्य विभागों में भी पीजी की सीटें बढ़ा दी गई हैं। जिससे मेडिसिन, चेस्ट समेत कई विभागों में पीजी सीटें दोगुना हो गई हैं। इससे मेडिकल कॉलेज को पर्याप्त रेजीडेंट मिल जाएंगे, जिससे रोगियों के इलाज में बहुत आसानी हो जाएगी।

घायलों के इलाज में होगी आसानी
अब हादसों में घायल होने वालों का इलाज बहुत आसानी से होगा। लेवन वन ट्रामा सेंटर का मामला फाइनल होने के बाद गंभीर घायलों को कहीं रेफर नहीं करना पड़ेगा। इसके साथ ही क्लीनिकल सेंटर का मामला भी फाइनल हो गया है। मेडिकल कॉलेज की प्राचार्य डॉ. आरती लालचंदानी ने बताया कि पीजी की ८५ सीटें बढ़ाए जाने को लेकर एमसीआई ने हामी भर ली है।

इमरजेंसी में मरने वाले के आश्रित को मिलेगी नौकरी
हैलट इमरजेंसी में बिना इलाज के तीन घंटे तक तड़पकर दम तोडऩे वाले कमल सिंह के एक आश्रित को अस्पताल में संविदा पर नौकरी दी जाएगी। यह निर्णय विभागाध्यक्षों की एक बैठक मेें प्राचार्य डॉ. आरती लालचंदानी ने लिया। यह फैसला भी लिया गया कि घटना के दोषी कंसल्टेंट और रेजीडेंट डॉक्टरों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके अलावा यह भी तय किया गया कि मरीज का रिफरेंस रेजीडेंट नहीं कंसल्टेंट देखेंगे। किसी भी रोगी के इलाज से इंकार करने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned