इस महिला ने राष्ट्रपति से मांगी इच्छामृत्यु, जानिए आखिर क्या है वजह

महिला ने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री के साथ ही मुख्यमंत्री को पत्र भेज इच्छा मृत्यु की अनुमति मांगी थी।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 30 Jan 2021, 03:04 PM IST

कानपुर-बिना पति के पंचायत घर में रहकर बच्चे का पालन पोषण कर रही एक महिला पर उस समय गाज गिर पड़ी, जब स्थानीय प्रशासन ने उस पंचायत घर को खाली कराने का आदेश कर दिया। दरअसल कानपुर देहात के रसूलाबाद क्षेत्र के दशहरा गांव निवासी सुमित्रा देवी के पति रणविजय सिंह करीब 18 वर्ष पूर्व ही उसे छोड़कर चले गए। उस असहाय देख ग्रामीणों ने महिला को आशियाने के रूप में पंचायत घर में रुकवा दिया। यहां वह पुत्र के साथ रह रही थी। स्थानीय प्रशासन के निर्देश पर पंचायत भवन खाली कराने का आदेश आने पर महिला को आशियाना छिनने का भय सताने लगा।

बताया गया कि ग्रामीणों ने महिला को करीब 12 वर्ष पूर्व पंचायत भवन में आशियाना दिया था। तब से अब तक जिम्मेदारों ने कोई ध्यान ही नहीं दिया। अपने पुत्र सोनू के साथ रह रही महिला 5 बिस्वा जमीन से ही जीविका चला रही थी। इधर तहसील प्रशासन की ओर से महिला को पंचायत भवन खाली करने का नोटिस दिया गया था। आशियाना जाते देख महिला ने गुरुवार को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री के साथ ही मुख्यमंत्री को पत्र भेज इच्छा मृत्यु की अनुमति मांगी थी।

फिर शुक्रवार को महिला ने एसडीएम को पत्र सौंप बताया कि पांच बिस्वा जमीन में ही जीवन यापन कर रही है। अब तक आवास नहीं दिया गया, इसके साथ ही अन्य शासन की योजनाओं का लाभ भी अब तक नहीं मिला है। महिला ने कहा कि मुझे इच्छा मृत्यु की अनुमति दें। एसडीएम अंजू वर्मा ने बताया कि पंचायत भवन में किसी को नहीं रखा जा सकता है। बीडीओ को आवास आवंटन के लिए निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही महिला को गांव में जमीन का आवंटन हो इसके निर्देश लेखपाल को दिए गए हैं।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned