साढ़े तीन अरब के प्रस्ताव योजना में हुए शामिल, फिर जिले के प्रभारी मंत्री अफसरों से बोले

उन्होंने अफसरों को बताया कि कृषि से ही देश की अर्थव्यवस्था चलती है।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 07 Jul 2019, 06:47 PM IST

कानपुर देहात-जिला योजना की बैठक में शरीक हुए कानपुर देहात के प्रभारी मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा ने देश को कृषि प्रधान बताते हुए कृषि व किसानों पर विशेष जोर दिया। उन्होंने अफसरों को बताया कि कृषि से ही देश की अर्थव्यवस्था चलती है। इसलिए कृषि व बागवानी पर प्रभावी रूप से ध्यान दिया जाये। वहीं बैठक में चर्चा होने के बाद 3 अरब 57 करोड़ 34 लाख के प्रस्तावों पर अनुमोदन की मुहर लगी। इसके अतिरिक्त विभागवार तय किए गए खर्च का ब्योरा प्रस्तुत करने के साथ ही उन पर चर्चा भी हुई।

 

कानपुर देहात के कलेक्ट्रेट सभागार में जिला योजना समिति की बैठक प्रदेश के सहकारिता एवं जिले के प्रभारी मंत्री मुकुट बिहारी वर्मा की अध्यक्षता में हुई। वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए तीन अरब 57 करोड़ 34 लाख के प्रस्ताव जिला योजना में शामिल किए गए। साथ ही 47 करोड़ 51 लाख 70 हजार रुपये का प्रस्ताव स्पेशल कंपोनेंट प्लान के लिए पेश किया गया। प्रभारी मंत्री ने स्वास्थ्य, शिक्षा, बिजली, पानी, सड़क जैसी योजनाओं को लोगों तक पहुंचाने की बात कही।

 

उन्होंने अफसरों को इन योजनाओं का सही से क्रियान्वयन कराने के लिए निर्देशित किया। वहीं जिला अस्पताल में दलालों का जमावड़ा, बाहर से दवा लिखने, पिछले वित्तीय वर्ष के नलकूप शुरू न होने पर जनप्रतिनिधियों ने नाराजगी जताई। इसके साथ ही जिले में हैंडपंप व नलकूपों का एस्टीमेट व सूची उपलब्ध न कराने का मुद्दा उठाया गया। बैठक के पूर्व प्रभारी मंत्री व जनप्रतिनिधियों ने परिसर में छायादार पौधे लगाए। प्रभारी मंत्री वर्मा ने कहा, सरकार जो योजनाएं संचालित कर रही है। उन योजनाओं का लाभ गरीबों तक पहुंचाया जाए।

Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned