विदेश में पढ़ाई के लिए होने वाली परीक्षा का सिस्टम बदला, अब इस तरह होगा इम्तिहान

विदेश में पढ़ाई के लिए होने वाली परीक्षा का सिस्टम बदला, अब इस तरह होगा इम्तिहान

Alok Pandey | Updated: 11 Jun 2019, 01:10:48 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

टेस्ट ऑफ इंग्लिश फॉरेन लैंग्वेज यानि टॉफेल का फार्मेट बदला गया, प्रश्नों की संख्या कम करने के साथ-साथ परीक्षा का समय भी घटाया

कानपुर। विदेश में शिक्षा पाने के लिए दी जाने वाली अनिवार्य परीक्षा टॉफेल का फार्मेट बदल दिया गया है। अब परीक्षा का समय और सवाल दोनों घटा दिए गए हैं। अगस्त से फार्मेट बदल जाएगा। जिसके मुताबिक अब परीक्षा साढ़े तीन घंटे की बजाय तीन घंटे में होगी। यह फैसला ईटीएस ने लिया है।

टॉफेल और ईटीएस
टॉफेल यानि टेस्ट ऑफ इंग्लिश फॉरेन लैंग्वेज। इसके माध्यम से छात्रों की अंगे्रजी भाषा की जानकारी चेक होती है। इसके जरिए यह देखा जाता है कि छात्र की स्टैंडर्ड अमेरिकन इंग्लिश कितनी मजबूत है। जिन लोगों की मातृभाषा अंग्रेजी नहीं होती है और वे इसे सेकेंड लैंग्वेज के तौर पर प्रयोग करते हैं। दुनिया के १३० देशों में पढ़ाई करने से पहले यह टेस्ट पास करना जरूरी होता है। इस टेस्ट को दुनिया के ७५०० से ज्यादा कॉलेज और यूनिवर्सिटी से मान्यता मिली हुई है। इस टेस्ट को अमेरिका की एजुकेशनल टेस्टिंग सर्विस यानि ईटीएस आयोजित कराती है।

रीडिंग सेक्शन में महज १० सवाल
नए फार्मेट में परीक्षा का समय और प्रश्नों की संख्या कम करने के साथ-साथ पैटर्न भी बदला गया है। आईआईटी के प्रो. भाष्कर दास ने बताया कि तीन सेक्शन में प्रश्रों की संख्या भी कम की गई है। पहला सेक्शन रीडिंग का होगा। इसमें अभी तक तीन से चार रीडिंग पैसेज, १२ से १४ प्रश्न प्रत्येक पैसेज से पूछे जाते थे। इसके लिए ६० से ८० मिनट का समय दिया जाता था। जबकि अब तीन-चार रीडिंग पैसेज से दस सवाल ही पूछे जाएंगे। और इसके लिए ५४ से ७५ मिनट का समय दिया जाएगा।

लिसनिंग में कोई बदलाव नहीं
दूसरे सेक्शन लिसनिंग में भी बदलाव हुआ है। पहले इस सेक्शन में चार से छह लेक्चर से सवाल पूछे जाते थे और हर लेक्चर से छह सवाल होते थे और दो से तीन कनवरसेशन होते थे और सभी से पांच प्रश्न होते थे। इसके लिए ६० से ९० मिनट का समय होता था। हालांकि इस सेक्शन में कुछ खास बदलाव नहीं किए गए हैं।

तीसरे सेक्शन में भी बदलाव
तीसरे सेक्शन स्पीकिंग में पहले छह टास्क दिए जाते थे, जिसमें दो इंडिपेंडेंट और चार इंटीग्रेटेड होते थे और जिसके लिए २० मिनट का समय लगता था। पर अब चार टास्क होंगे और इसमें एक इंडिपेंडेंट ओर तीन इंटीग्रेटेड होंगे। समय भी घटाकर १७ मिनट कर दिया गया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned