मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह बस में बैठकर पहुंचे वर्कशाप, अव्यवस्था देख जीएम से मांगा स्पष्टीकरण

मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह बस में बैठकर पहुंचे वर्कशाप, अव्यवस्था देख जीएम से मांगा स्पष्टीकरण

Vinod Nigam | Publish: Sep, 10 2018 06:33:47 PM (IST) Kanpur, Uttar Pradesh, India

परिवहन मंत्री ने विकासनगर स्थित वर्कशाप में मारा छापा, तीन कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया

कानपुर। उत्तर प्रदेश के परिवहन मंत्री स्वतंदेव सिंह सोमवार को कार के जरिए कानपुर पहुंचे और झकरकटी बस स्टैंड से रोडवेज में सवार हो गए। गुरूदेव तक का टिकट लिया और टैम्पों में लेकर विकासनगर डिपो में धावा बोल दिया। मंत्री सीधे जीएम के ऑफिस में गए और वहां अव्यवस्था देख भड़क गए। मंत्री ने जीएम मनोज भूषण से कर्मचारियों के बारे में जानकारी ली। इस दौरान तीन कर्मियों की उपस्थिती रजिस्टर में दर्ज होने के बाद वो मौके पर नहीं मिले। इससे नाराज होकर स्वतंत्रदेव सिंह ने जीएम को नोटिस देकर स्पष्टीकरण मांगा और सख्त हिदायद देते हुए दोबारा गलती पाए जाने पर निलंबन के साथ एफआईआर दर्ज करवा जेल भेजने को कहा। इस दौरान पूरे परिसर में हड़कंप मचा रहा।

कार्रवाई के दिए आदेश
परिवहन मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह सोमवार को विकासनगर स्थित रोडवेज वर्कशाप का निरीक्षण करने के लिए अपनी सरकारी कार के बजाए बस का सहारा लिया। मंत्री ने बिना किसी को सूचना दिए सीध वर्कशाप पहुंचे और जीएम मनोज भूषण के चैम्बर में दाखिल हो गए। मंत्री को देख जीएम ने सैलूट कर कुर्सी छोड़ दी। मंत्री ने वर्कशाप परिसर का निरीक्षण किया और गंदगी-अव्यवस्था देख भड़क गए। इस दौरान उन्होंने जीएम को जमकर फटकार लगाई और उपस्थिती रजिस्टर को मांग लिया। इस दौरान पंद्रह कर्मचारी में 12 अवकाश पर थे, जबकि तीन के हस्ताक्षर होने के बाद गायब मिले। इस पर मंत्री ने जीएम से स्पष्टीकरण मांगा है और तीनों कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया।

कैंसर पीड़ित को दिए पैसे
मंत्री के आने की खबर लगते ही नगर अध्यक्ष सुरेंद्र मैथानी, विधायक अभिजीत सिंह सांगा, आरटीओ सहित तमाम अधिकारी विकास नगर पहुंचे और मंत्री के साथ बैठक की। इस मौके पर मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह ने नई बसों की गुणवत्ता को परखा। बसों में मंत्री, सांसद, विधायक, स्वतंत्रता सेनानी और पत्रकारों के लिए सीट के आगे नेम प्लेट लगाए जाने के निर्देश दिए। इसी दौरान एक कैंसर पीड़ित कर्मचारी मंत्री स्वतंत्रदेव के पास आकर हाथ जोड़कर खड़ा हो गया। मंत्री ने उसकी समस्या को सुना और इलाज के लिए तीन माह का अवकाश के साथ आर्थिक मदद के तौर अपनी जेब में पांच हजार रूपए दिए। साथ ही शासन की तरफ से इलाज का सारा पैसा वाहन करने का उसे आश्वासन दिया।

पांच हजार बसों की रंगाई का काम जारी
कुंभ मेले के लिए 5000 बसों को संकल्प सेवा के लिए भगवा रंग में रंगा जा रहा है। बसों की रंगाई और निर्माण का कार्य कानपुर के विकासनगर और रावतपुर डिपो को दिया गया है। मंत्री स्वतंत्रदेव ने बताया कि कुंभ मेले में संकल्प सेवा के नाम से बसों को दौड़ाया जाएगा। कुंभ में देश-विदेश से श्रद्धालु आते हैं। भगवा बसों से कुंभ का रंग हर तरफ चढ़ेगा। इससे अच्छा संदेश जाएगा। मंत्री ने कहा बसों की डेंटिंग पेंटिंग के निर्देश दिए गए हैं, संकल्प सेवा का रंग दिया जाना है। दिसंबर तक सभी बसों को पूरी तरह से तैयार कर लेने के आदेश विभाग को दिए गए है।

संकल्प सेवा दिया गया नाम
पूरे प्रदेश में भगवा रंग में संकल्प सेवा के नाम से 50 बसें चल रही हैं। ये सभी बसें कानपुर के केंद्रीय कार्यशाला रावतपुर और डॉ. राम मनोहर लोहिया एलेन फारेस्ट कार्यशाला विकास नगर में तैयार की गई हैं। इसके बाद इनका संचालन प्रदेश में किया जा रहा है। संकल्प सेवा नाम से भगवा रंग की बसें अब कुंभ से पहले उतारने की तैयारी है। उम्मीद है बस सेवा से कुंभ स्नान करने वाले दर्शनार्थियों को सीधा लाभ मिलेगा। ,इस मामले पर मंत्री स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि बसें पूरी तरह से आधुनिक होंगी। बसों में कुंभ जाने वाले श्रृदालुओं को कोई समस्या न आए उसके लिए कई तरह के प्रयास किए गए हैं। बसें हर हाल में इसी साल बनकर तैयार हो जाएंगी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned