scripttreatment camp for children's bent legs started in Kanpur | बच्चों के मुड़े हुए पैरों का इलाज करने की मुहिम शुरू, मुफ्त होगा इलाज, कानपुर में पहला कैंप | Patrika News

बच्चों के मुड़े हुए पैरों का इलाज करने की मुहिम शुरू, मुफ्त होगा इलाज, कानपुर में पहला कैंप

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में बच्चों के मुड़े हुए पैरों को लेकर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिससे लोगों में इसको लेकर जागरूकता लाई जा सके।

कानपुर

Published: November 29, 2021 10:02:17 pm

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क
कानपुर. राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अन्तर्गत क्लब फूट (मुड़े पैर) से ग्रसित छोटे बच्चों के उपचार के लिए जिला अस्पताल उर्सला में कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम के अन्तर्गत क्लब फूट पर जागरूकता फ़ैलाने और इससे ग्रसित बच्चों के उपचार के लिए परिवारों की काउन्सलिंग की गई। अक्सर माँ बाप बच्चों में इस तरह की समस्या होने पर बहुत परेशान होते हैं। जिससे कई बार बच्चों को विकलांग बनने को भी मजबूर होना पड़ता है। ऐसी स्थिति में कानपुर में कार्यक्रम के ज़रिए इसका समाधान किया गया।
baby_clubfoot.jpg
राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अन्तर्गत जिला अस्पताल उर्सला में सोमवार को कैंप का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में क्लब फूट और इससे ग्रसित बच्चों के उपचार के बारे में परिवार व आमजन को जागरुक किया गया । मिरेकल फीट इण्डिया के सहयोग और राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम टीम के समन्वय से जिला अस्पताल में क्लब फूट से ग्रसित बच्चों के उपचार के लिए अभिभावकों का संवेदीकरण कर परामर्श दिया जा रहा है।
माँ बाप को खुद समझना होगा

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के प्रबंधक अजीत सिंह ने बताया कि 29 नवम्बर से 4 दिसम्बर तक जिला अस्पताल उर्सला में क्लब फूट से ग्रसित बच्चों के उपचार के लिए कैंप आयोजित किया जा रहा है। क्लब फूट से ग्रसित बच्चों का उपचार आमजन के लिए पूर्णतः निःशुल्क है। इसके लिए सहयोगी संस्था मिरेकल फीट इण्डिया की ओर से उपचार का पूरा खर्च वहन किया जा रहा है।
मिरेकल फीट इण्डिया के जिला कार्यक्रम प्रबंधक व परामर्शदाता आशीष मिश्र ने बताया कि क्लब फूट या मुड़े हुए पैरों का उपचार संभव है और उपचार के बाद बच्चा पूरी तरह ठीक होकर अपने पैरों पर चलने में सक्षम हो जाता है। यह उपचार पूर्णतः निःशुल्क है।
मुफ्त होगा पूरा इलाज

आयोजित हो रहे कैंप में बच्चों के परिवार को उपचार की पूरी प्रक्रिया बताई जा रही है, ताकि क्लब फूट से ग्रसित एक भी बच्चा उपचार से अछूता न रहे। इसके साथ ही लक्षित बच्चों की लाइन लिस्टिंग भी की जा रही है। यदि किसी बच्चे में मुड़े पैरों की समस्या है तो उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में संपर्क किया जा सकता है। इस दौरान जिला अस्पताल उर्सला के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. अनिल निगम, आर बी.एस.के. टीम सदस्य, मिरेकल फीट इंडिया टीम और सभी आर्थोपेडिक चिकित्सक व अभिभावक मौजूद रहें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

हार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैंधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजप्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टEye Donation- बेटी को जन्म दे, चल बसी मां, लेकिन जाते-जाते दो नेत्रहीनों को दे गई रोशनीयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

विश्व के सबसे लोकप्रिय नेता बने PM Modi, ग्लोबल सर्वे में बाइडेन और ट्रूडो जैसे दिग्गजों को पछाड़ाCorona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरदिल्ली में घटते कोरोना मामलों के बीच वीकेंड कर्फ्यू हटाने का फैसला, CM अरविन्द केजरीवाल ने उपराज्यपाल को भेजा पत्र50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीT20 World Cup 2022: ICC ने जारी किया शेड्यूल, इस दिन होगी भारत-पाकिस्तान की टक्करप्रधानमंत्री 5 फरवरी को हैदराबाद में रामानुजाचार्य की 216 फुट ऊंची प्रतिमा का करेंगे अनावरण, 120 किलो सोने से बनी है ये प्रतिमातीन तलाक मामला-फोन पर बोला और तोड़ दिया रिश्ताAadhaar Card में अपडेट करना चाहते हैं नया मोबाइल नंबर, फॉलो करें यह आसान तरीका
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.