ब्लड कैंसर के मरीजों के लिए अच्छी खबर, यहां शुरू होगी इलाज की सुविधा

शासन को भेजा गया प्रस्ताव, मरीजों को नहीं जाना होगा दूसरे शहर
आईसीयू और ओटी के अलग से वार्ड के लिए भवन निर्माण की मांग

कानपुर। जानलेवा ब्लड कैंसर का इलाज कराने के लिए मरीजों को अब दिल्ली-मुंबइ तक की दौड़ नहीं लगानी पड़ेगी। यह सुविधा उन्हें शहर में ही मिल सकेगी। सब कुछ ठीक रहा तो जेके कैंसर संस्थान में ब्लड कैंसर के इलाज की सुविधा मिल जाएगी। संस्थान की ओर से शासन को प्रस्ताव भेजा गया है। सरकार की ओर से कानपुर में स्वास्थ्य सेवाओं में लगातार बढ़ोत्तरी की जा रही है। मेडिकल कॉलेज को संस्थान बनाने के साथ-साथ जेके कैंसर इंस्टीट्यूट को भी हाईटेक बनाए जाने की तैयारी है। इसी सिलसिले में संस्थान के अधिकारियों ने यह प्रस्ताव तैयार किया है।

मानकों के आधार पर चाहिए भवन
एमसीआई के मानकों के मुताबिक ब्लड कैंसर के इलाज के लिए संस्थान में अंकोमेडिसिन (ब्लड कैंसर व इससे जुड़े अन्य कैंसर के इलाज का विभाग) और अंकोसर्जरी विभाग होना चाहिए। उसी हिसाब से आईसीयू और ओटी की सुविधा हो और अलग वार्ड होने चाहिए। पूर्व में शासन स्तर पर इन दोनों विभागों के गठन पर सहमति बनी थी। इसे लेकर संस्थान की ओर से नए प्रस्ताव भेजे गए हैं। इस प्रस्ताव में दोनों विभागों के लिए अलग भवन का निर्माण जरूरी है।

भवन के लिए भेजा प्रस्ताव
जेके कैंसर इंस्टीट्यूट के निदेशक प्रो. एसएन प्रसाद का कहना है कि दोनों विभागों के बगैर इलाज अधूरा है। सिर्फ रेडियोथेरेपी, कीमोथेरपी की सुविधा है। अंको मेडिसिन शुरू होने से कई तरह के कैंसर का इलाज हो सकेगा। अंकोमेडिसिन में कई तरह के कैंसर का इलाज संभव है। अंकोसर्जरी डिपार्टमेंट से सर्जरी भी होगी। आईसीयू और पैलेटिव केयर से जुड़ी अन्य सुविधाएं भी होंगी। चार माले के एक भवन का अलग से प्रस्ताव शासन को भेजा गया है।

लीनियर एक्सीलेरेटर खराब
संस्थान के अधिकारियों के मुताबिक ब्लड कैंसर पीडि़तों के लिए इलाज की सुविधा नहीं होने से उन्हें दूसरे शहरों में जाना पड़ता है। दूसरी ओर संस्थान में रेडियोथेरेपी के लिए लीनियर एक्सीलेरेटर मशीन कई महीनों से खराब हैं। ऐसे में मरीजों को आधुनिक तकनीक से इलाज नहीं मिल रहा है। इस मशीन को सही कराने के लिए भी शासन को लिखा गया है, ताकि मरीजों को राहत मिल सके।

आलोक पाण्डेय
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned