Triple Murder Case Kanpur: हत्याकांड में बड़ी जानकारी आई सामने, घर से मिले टिफिन से पुलिस की उम्मीदें बढ़ीं

Kanpur Triple Murder Case पुलिस हत्यारों तक पहुंचने के लिए प्रत्येक बिंदु पर सुराग तलाश रही है।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 04 Oct 2021, 01:23 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. फजलगंज में परचून कारोबारी प्रेम किशोर, उनकी पत्नी ललिता व 12 साल के बेटे नैतिक की हत्या (Triple Murder Case) के मामले में पुलिस हर पहलू पर गंभीर है। पुलिस महकमे को हिला देने वाली इस वारदात (Triple Murder Kanpur) में एक और बड़ी जानकारी सामने आ रही है। पोस्टमार्टम में दंपति के होठ काले मिलने पर डाक्टरों ने जहरीला पदार्थ दिए जाने की आशंका भी जताई है। जांच के लिए विसरा सुरक्षित किया गया है। इसके अलावा कारोबारी के घर से पुलिस को एक टिफिन में रखा खाना भी मिला है। अब पुलिस की निगाह इस टिफिन पर भी टिकी है। फिलहाल खाने की भी जांच कराई जा रही है। टिफिन से फिंगर प्रिंट भी जुटाए गए हैं। पुलिस हत्यारों तक पहुंचने के लिए प्रत्येक बिंदु पर सुराग तलाश रही है।

इस घटना के बाद तीनों शव के पोस्टमार्टम में मौत का समय शुक्रवार रात करीब दो बजे माना गया है। जबकि पहले घटना शनिवार तड़के मानी जा रही थी। हत्या की घटना को अंजाम देते समय आखिर किसी को कोई चीख या शोरगुल क्यों नहीं सुनाई दिया यह सवाल भी कौंध रहा है। इसलिए घर में खाना भरे रखे टिफिन पर भी पुलिस आशा भरी नजर से देख रही है। कि आखिर चापड़ और लोहे की राड से वार और गला रेतकर नृशंस हत्याओं पर किसी ने चीखें क्यों नहीं सुनीं? क्यों किसी को वारदात का पता नहीं चल सका? ऐसा माना जा रहा है कि जहरीला पदार्थ खिला सबको अचेत करने के बाद हत्याएं की गईं होंगी। अचेत होने के चलते कोई चीख तक नहीं सका।

कारोबारी के घर पर मिले टिफिन से जांच को नई दिशा मिलने की पुलिस उम्मीद कर रही है। विशेषज्ञों की टीम को यकीन है कि प्रेम किशोर के बेहद करीबी ने वारदात को अंजाम दिया है। वह बहाने से घर आया और अपने साथ खानपान का सामान भी लाया था। संभवत: खाना खाने के बाद दंपती अचेत हो गए होंगे। अचेत होने के कारण दंपती व उनका बेटा विरोधाभास में शोरगुल नहीं कर पाए। तब हमलावरों ने चापड़ से सिर, चेहरे पर वार करके दंपती की हत्या की और बेटे के सिर पर भारी वस्तु से वार करके गला कसने के साथ गर्दन मरोड़ दी। हमले के दौरान प्रेम किशोर ने आधी बेहोशी की हालत में संघर्ष किया होगा। ऐसे में हत्यारे उन पर हावी रहे होंगे।

Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned