scriptTwenty More E-Bus will start for new route in kanpur | रोडवेज की खास कार्ययोजना, 20 दिसंबर से बीस और ई-बसों की सौगात, किराया महज 5 रुपए | Patrika News

रोडवेज की खास कार्ययोजना, 20 दिसंबर से बीस और ई-बसों की सौगात, किराया महज 5 रुपए

कानपुर नगर में 40 के बाद अब 20 और ई-बसें शुरू होंगी। कबिनेट मंत्री सतीश महाना के क्षेत्र के छह नए रूट के लिए कानपुर सिटी ट्रांसपोर्ट लिमिटेड की बैठक में प्रस्ताव को मंजूरी मिली। इन बसों के संचालन से लोगों को बड़ी राहत के साथ प्रदूषण कम होने की भी काफी संभावना है।

कानपुर

Published: December 15, 2021 01:18:18 pm

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. कानपुर को ई-बसों की सौगात मिलने से लोगों को बड़ी राहत मिली है। वहीं अब कानपुर के छह अन्य रूटों पर इन बसों (E-Bus) के संचालन को लेकर कानपुर सिटी ट्रांसपोर्ट लिमिटेड (E-Bus in Kanpur) की बैठक में प्रस्ताव को मंजूरी मिली। इन रूटों पर 20 दिसंबर से 20 और ई-बसें चलने लगेंगी। यह प्रस्ताव कैबिनेट मंत्री (Cabinet Minister) सतीश महाना के विधानसभा क्षेत्र में सिकठिया से बड़ा चौराहा वाया घंटाघर तक ई-बस चलाने का रखा गया था। जिसका न्यूनतम किराया पांच रुपये बताया गया है।
रोडवेज की खास कार्ययोजना, 20 दिसंबर से बीस और ई-बसों की सौगात, किराया महज 5 रुपए
रोडवेज की खास कार्ययोजना, 20 दिसंबर से बीस और ई-बसों की सौगात, किराया महज 5 रुपए
यह भी पढ़ें: कानपुर मेट्रो में दस विशेषताएं है ये खास, आप भी जानिए

बसों में गुटखा या सिगरेट पर सख्त हिदायत

दिसंबर अंत तक 20 और ई-बसें चलने के बाद कुल संचालित बसों की संख्या 60 हो जाएगी। पहले चरण में 100 में 60 बसें चलेंगी। धीरे-धीरे संख्या बढ़ाई जाएगी। हालांकि जाम और अतिक्रमण के कारण पहले से संचालित 20 बसें रफ्तार नहीं पकड़ पा रहीं हैं। बताया जा रहा है कि इन बसों में गुटखा खाने या ले जाने पर सख्त पाबंदी है। इलेक्ट्रिक बस सेवा के क्षेत्रीय प्रबंधक डीबी सिंह के मुताबिक ई-बसों में सफाई का बेहद ध्यान रखा जा रहा है। कोई यात्री गुटखा खाते या किसी की जेब में गुटखा, सिगरेट मिली तो उसे उतार दिया जाएगा। सभी ई-बसों के कंडक्टरों और चेकिंग स्टाफ को हिदायत दी गई है।
इन ई-बसों के चलने से प्रदूषण में आएगी कमी

ई-बसों के संचालन से प्रदूषण में कमी आने की उम्मीद है। 11 दिसंबर से शुरू हुईं 20 इलेक्ट्रिक बसों की कमाई धीरे-धीरे बढ़ रही है। पहले दिन 18 हजार रुपये की कमाई हुई थी। चौथे दिन यह 90 हजार रुपये पहुंच गई। अफसरों के मुुताबिक एक लाख प्रतिदिन की आय पहुंचने पर ई-बसों का संचालन फायदे का सौदा साबित होने लगेगा। साथ ही विज्ञापन समेत अन्य स्रोतों से आमदनी बढ़ाकर राजस्व बढ़ाने का प्रयास होगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

बेरोजगारों के लिए सबसे बड़ी खबर: राजस्थान में अब अधिकांश भर्तियों में नहीं होगा साक्षात्कारQUAD Summit: अमरीकी राष्ट्रपति ने उठाया रूस-यूक्रेन युद्ध का मुद्धा, मोदी बोले- कम समय में प्रभावी हुआ क्वाड, लोकतांत्रिक शक्तियों को मिल रही ऊर्जाWhat is IPEF : चीन केंद्रित सप्लाई चैन का विकल्प बनेंगे भारत, अमरीका समेत 13 देशकर्नाटक में बड़ा हादसा, यात्री बस और लॉरी की टक्कर में 7 लोगों की मौत, 26 बुरी तरह से जख्मीWeather Update: दिल्ली में आज भी बारिश के आसार, इन राज्यों में आंधी-तूफान की संभावनाहरियाणा के जींद में सड़क हादसा: ट्रक और पिकअप की टक्‍कर में 6 की मौत, 17 घायलRajasthan: सितंबर से दिए जाएंगे महिला मुखियाओं को इंटरनेट समेत मुफ्त 1.33 करोड़ स्मार्ट फोन, 7500 करोड़ का टेंडरटाइम मैगजीन ने जारी की 100 प्रभावशाली लोगों की लिस्ट, जेलेंस्की, पुतिन के साथ 3 भारतीय भी शामिल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.