राज्यपाल के सामने सीएसए के छात्रों ने लगाया अंक देने में भेदभाव का आरोप

राज्यपाल के सामने सीएसए के छात्रों ने लगाया अंक देने में भेदभाव का आरोप

Alok Pandey | Updated: 09 Oct 2019, 12:38:25 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

सीएसए के दीक्षा समारोह में राज्यपाल के सामने छात्रों ने जमकर किया हंगामा

विवि प्रशासन के हाथ पैर फूले, छात्रों को समझाबुझाकर कराया गया शांत

कानपुर। चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (सीएसए) के दीक्षा समारोह में पहुंची राज्यपाल आनंदीबेन के सामने विवि के छात्रों ने जमकर हंगामा किया। राज्यपाल के सामने हुए इस हंगामे से सीएसए प्रशासन के हाथ-पैर फूल गए। छात्रों ने विवि प्रशासन पर अंक देने में भेदभाव का आरोप लगाया। जिसके बाद विश्वविद्यालय के प्रशासनिक अफसरों ने छात्रों को शांत कराया।

कार्यक्रम शुरू होते ही पड़ा खलल
राज्यपाल आनंदी बेन पटेल का हेलीकॉप्टर करीब साढ़े दस बजे विवि पहुंचा। यहां स्वागत के बाद उन्होंने चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा पर पुष्प अर्पण किया। फिर जैसे ही दीप प्रज्ज्वलन के साथ कार्यक्रम की शुरुआत हुई तो कैलाश सभागार में मौजूद कुछ छात्रों ने राज्यपाल के सामने हंगामा शुरू कर दिया। उनका आरोप था कि परीक्षा में उन्हें कम अंक दिए गए हैं। छात्रों ने विवि प्रशासन पर अंक देने में भेदभाव का आरोप लगाया। छात्रों का कहना था कि किसी को लाभ दिलाने के लिए परीक्षा रद कराई गई।

राज्यपाल के सामने हुई फजीहत
जैसे ही छात्रों ने हंगामा शुरू किया तो राज्यपाल के सामने हुई फजीहत से विश्वविद्यालय के प्रशासनिक अफसर परेशान हो उठे। फिर कुलपति के इशारे पर तुरंत प्रशासनिक अफसरों ने हंगामा कर रहे छात्रों को मौके से हटाया और किसी तरह समझाबुझाकर शंात कराया। पूरे कार्यक्रम के दौरान इन छात्रों पर नजर रखी गई, ताकि दोबार फिर से वे हंगामा न शुरू कर दें।

७०१ मेधावियो को मिलीं उपाधियां व पदक
सीएसए के 21वें दीक्षा समारोह में 701 छात्र छात्राओं को उपाधियां प्रदान की गईं। इनमें 14 छात्र-छात्राओं को कुलाधिपति स्वर्ण, 14 को कुलपति रजत व 14 को कुलपति कांस्य पदक से नवाजा गया। बीएससी ऑनर्स के छात्र ऋतेश सिंह को कुलाधिपति स्वर्ण समेत तीन पदक प्रदान किये गये हैं। उन्होंने 8.63 सीजीपीए अंकों के साथ परीक्षा में सर्वाधिक अंक प्राप्त किये हैं। कुलपति प्रोफेसर सुशील सोलोमन ने बताया कि प्लेसमेंट में विश्वविद्यालय लगातार आगे बढ़ रहा है। 175 छात्र छात्राओं को इस वर्ष कैंपस प्लेसमेंट से नौकरी मिली है। विश्वविद्यालय में इंटरनेट की सुविधा के अलावा इस वर्ष दो नए छात्रावास भी बनवाए गए हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned