इस गलत काम के लिए करता था मना, तो किसान का किया ऐसा हस्र, आरोपी की जुबानी सुन सभी हो गए हैरान

पुलिस ने मुख्य आरोपी तौफीक सहित 6 लोगों को गिरफ्तार किया है।

By: Arvind Kumar Verma

Published: 25 Aug 2020, 07:22 PM IST

कानपुर देहात-जिले के बारा गांव में किसान राकेश की गई निर्मम हत्या के मामले में अकबरपुर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया। वहीं पुलिस ने उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त किया गया लोहे का सब्बल, लोहे की चाकू, एक मोटरसाइकिल व कपड़े बरामद किए हैं। पुलिस ने मुख्य आरोपी तौफीक सहित 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। बताया गया कि आरोपी भागने की फिराक में बारा गांव के बाहर नेशनल हाईवे पर खड़े होकर वाहन का इंतजार कर रहा था। तभी पुलिस ने हत्यारोपी तौफीक को धर दबोचा। कानपुर देहात के पुलिस कप्तान अनुराग वत्स ने प्रेस वार्ता कर मामले का खुलासा किया है।

ये है पूरी घटना की दास्तां

दरअसल कानपुर देहात के अकबरपुर कोतवाली क्षेत्र के बारा गांव में 23 अगस्त को गांव निवासी किसान एवं ट्रांसपोर्टर राकेश पाल की खेत में धारदार हथियार से बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। घटना की सूचना पर पुलिस कप्तान व अन्य पुलिस अफसरों सहित पुलिस बल मौके पर पहुंचा और लोगों से पूछताछ की थी। जिसके बाद फील्ड यूनिट व डॉग स्क्वॉड द्वारा घटनास्थल से कुछ साक्ष्य संकलित किए गए थे। दिनदहाड़े हुई निर्मम हत्या को लेकर जहा पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। जिसके बाद पुत्र की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया। वहीं पुलिस कप्तान ने पुलिस टीमें बनाकर आरोपी की तलाश शुरू कराई। इस दौरान पुलिस को गांव के ही एक युवक पर आशंका हुई थी। फिलहाल जांच पड़ताल के जरिए पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर हत्यारोपी तौफीक को गिरफ्तार कर मामले का पर्दाफाश कर दिया।

आरोपी ने बताई हत्या की वजह

प्रेस वार्ता के दौरान घटना का खुलासा करते हुए एसपी अनुराग वत्स ने बताया कि पुलिस पूछताछ में गिरफ्तार मुख्य आरोपी तौफीक ने पुलिस को बताया कि उसका गांव की ही एक महिला से अवैध संबंध थे, जो राकेश पाल जानता था और हम दोनों के बीच रोड़ा बन रहा था। वहीं एक बार एक विवाद के बाद तौफीक ने राकेश को रास्ते से हटाने का में बना लिया। जिसके बाद 23 अगस्त को रोजाना की तरह जब राकेश पशुओं के लिए खेत से चारा लेने गया। उसी समय तौफीक लोहे का सब्बल व चाकू छिपाकर खेत पहुंचा, जहां उसने चाकू व सब्बल से उसकी हत्या कर डाली। जिसके बाद घर पहुंचकर उसने हत्या में प्रयुक्त ये वस्तुएं छिपा दी। घटना को अंजाम देते समय तौफीक के हांथ की उंगलियां भी जख्मी ही गईं। जिस पर वह अपने साथियों के साथ निजी अस्पताल में इलाज के लिए गया था।

पुलिस कप्तान ने बताया दिनदहाड़े हुई इस हत्या को लेकर जिले एएसपी व अकबरपुर क्षेत्राधिकारी के निर्देशन में पुलिस टीम ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया है। वहीं साक्ष्य छिपाने व मिटाने के आरोप में 5 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिसमें दो महिलाएं भी सम्मिलित हैं। एसपी ने पुलिस टीम द्वारा घटना के खुलासे के लिए 20 हजार धनराशि से पुरुस्कृत करने की बात कही है।

Show More
Arvind Kumar Verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned