भारत बंद अभियान को लेकर जब कांग्रेसी स्टेशन की तरफ बढ़े तो पुलिस फोर्स ने उठाया ये कदम

भारत बंद अभियान को लेकर जब कांग्रेसी स्टेशन की तरफ बढ़े तो पुलिस फोर्स ने उठाया ये कदम

Arvind Kumar Verma | Publish: Sep, 11 2018 12:40:13 PM (IST) Kanpur, Uttar Pradesh, India

डीजल पेट्रोल मूल्य वृद्धि को लेकर विपक्षियों के भारत बंद अभियान को पुलिस ने फीका कर दिया। ट्रेन की तरफ कांग्रेसियों का हुजूम बढता देख पुलिस फोर्स ने सख्त कदम उठाया।

कानपुर देहात-पेट्रोल डीजल के मूल्यों में बढ़ोत्तरी को लेकर विपक्षी दलों के भारत बंद का अभियान जनपद में कोई खास प्रभाव नही डाल सका। भारत बंद के विपक्षी दलों के आवाह्न पर जनपद में पुलिस बल भी सक्रिय दिखाई दिया, जिसके चलते कांग्रेस व सपाइयों को अभियान में सफलता नहीं मिल सकी। पुखरायां, भोगनीपुर, अकबरपुर, रसूलाबाद व झींझक सहित प्रमुख कस्बों में दुकानें रोजाना की तरह खुली रहीं। जैसे ही विपक्षियों का हुजूम दुकानों की तरफ से गुजरे तो व्यापारी दुकान बंद कर दें और उनके निकलने के बाद दुकानें खुल जाती रही। वहीं कांग्रेस जिलाध्यक्ष जब हुजूम के साथ ट्रेन की तरफ आगे बढ़े तो पुलिस फोर्स ने उनको रोक दिया। लालपुर के पास कांग्रेसियों को एकत्र होता देख पुलिस ने जिलाध्यक्ष सहित चार लोगों को अकबरपुर कोतवाली में बैठा लिया। इस दौरान जनपद के कई नगरों में पुलिस बल सक्रिय दिखाई दिया। वही लालपुर व पुखरायां रेलवे लाईन के किनारे पुलिस बल लगा रहा।

 

ट्रेन की तरफ बढ़ते कांग्रेसियों को कोतवाली में बैठाया

सत्तासीन सरकार के विरोध में विपक्षी दलों का भारत बंद अभियान जिले के झींझक, रसूलाबाद सहित अकबरपुर कस्बे में पूरी तरह फ्लाप रहा। रोजाना की तरह दुकानें खुली रही। जैनपुर व बारा में कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष नरेश कटियार , पीसीसी सदस्य मो.शमीम कुरैशी, बाजिद कुरैशी आदि के आग्रह पर लोगों ने दुकानों के शटर गिराए लेकिन उनके हटते ही दुकानें फिर से खुल गईं। भोगनीपुर व पुखरायां में कांग्रेस जिलाध्यक्ष नीतम सचान की अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने व्यापारियों से अपने प्रतिष्ठान बंद करने का आह्वान किया। कुछ देर के लिए दुकानों के शटर गिरे लेकिन जुलूस आगे बढ़ते ही दुकानों के शटर फिर से ऊपर हो गए। जब कांग्रेस जिलाध्यक्ष चार साथियों को लेकर लालपुर पहुंचे। तो इंस्पेक्टर उमाकांत ओझा ने वहां स्टेशन की ओर उनको जाता देख रोकते हुए कोतवाली में बैठा लिया।

 

रसूलाबाद में कांग्रेसियों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

विमल शुक्ला व ओपी कठेरिया की अगुवाई में कांग्रेसियों ने तहसील रसूलाबाद पहुंचकर राष्ट्रपति को संबोधित 15 सूत्रीय ज्ञापन एसडीएम को दिया। ऐसा ही हाल कुछ रूरा में देखने को मिला। रूरा में दिलीप सिंह, उमाकांत तिवारी, राम औतार दीक्षित आदि अन्य लोगों ने व्यापारियों से दुकानें बंद करने का आग्रह किया लेकिन उन लोगों के आगे बढ़ते ही दुकानें फिर से खुल गईं। झींझक में साप्ताहिक बंदी के बाद भी तमाम दुकानें खुली रहीं। सपाइयों ने जमकर अखिलेश जिंदाबाद के नारे लगाए। इस संबंध में अकबरपुर कोतवाल ऋषिकांत शुक्ला ने बताया कि थाने लाए गए जिलाध्यक्ष सहित चारों कांग्रेसियों को देर शाम घर भेज दिया गया।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned