तीसरी मंजिल में धू-धू कर जली बंगाल की प्रिया

बिधून थानाक्षेत्र का मामला, अपने मौसा के घर इलाज के लिए आई थी युवती, केरोसिन छिड़क कर लगा ली आग, मौत।

By: Vinod Nigam

Published: 07 Jul 2019, 09:01 AM IST

कानपुर। बिधनू थानाक्षेत्र के रौतारा गांव में शनिवार को बंगाल की रहने वाली एक युवती ने घर की तीसरी मंजिल में जाकर शरीर में केरोसिन छिड़कर आग लगा ली, जिससे उसकी दर्दनाक मौत हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

केरोसिन छिड़क कर लगाई आग
पश्चिम बंगाल के खंचा की रहने प्रिया (25) 26 जून को भाई राहुल के साथ बिधनू के रौतारा गांव में मौसा पलास के घर आई थी। घर के सभी लोग नीचे थे, तभी प्रिया तीसरी मंजिल में बनें एक कमरे में जाकर अपने शरीर में केरोसिन छिड़कर आग लगा दी। धुआं देख पड़ोसियों ने पलास को जानकारी दी। सभी लोग छत पर गए और कमरे की खिड़की तोड़ अदंर का नजारा देख सहम गए। किसी तरह से दरवाजा तोड़ कर अंदर दाखिल हुए। पलास के मुताबिक कंबल के जरिए आग को बुझा कर प्रिया को गंभीर हालत में सीएचसी ले गए। अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

मानसिक रोगी थी प्रिया
पलास ने बताया कि प्रिया पिछले पांच माह से मानसिक रूप से बीमार चल रही थी। बंगाल में इलाज कराने के बाद भी कोई फायदा नहीं हुआ तो राहुल उसे लेकर यहां आ गया था। यहां पर एक नर्सिंगहोम में न्यूरो सर्जन से उसका इलाज शुरू कराया था। शुक्रवार को राहुल इलाज के चलते उसे छोड़कर पंजाब दूसरी मौसी के घर चला गया था। पलास के मुबिक प्रिया गुमशुम रहती थी और ज्यादा किसी से बात नहीं करती थी।

सबको हंसाती थी प्रिया
मृतका के मौसा के मुताबिक एक साल पहले जब प्रिया हमारे घर आई थी तो सबको हंसाती थी। पर पांच पहले वो अचानक बीमार पड़ गई और हंसना तो दूर किसी से बात भी ठीक से नहीं करती थी। यहां आने पर भी वो अक्सर हमलोगों से भी गलत गरीके से पेश आती थी। वहीं मामले पर थाना प्रभारी अनुराग सिंह ने बताया कि पुलिस को किसी ने तहरीर नहीं सौंपी। फिर भी पुलिस ने दो लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

Vinod Nigam
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned