दरिंदो ने पार कर दी जुल्म की हदें, मासूम का किया ऐसा हस्र, हैरत में पड़ जाएंगे आप

दरिंदो ने पार कर दी जुल्म की हदें, मासूम का किया ऐसा हस्र, हैरत में पड़ जाएंगे आप

Arvind Kumar Verma | Publish: Jul, 18 2019 02:13:15 PM (IST) Kanpur, Kanpur, Uttar Pradesh, India

थानाध्यक्ष रामबहादुर सिंह पाल ने पुलिस बल के साथ तत्काल प्रभाव से दबिश देकर आरोपियों को हिरासत में लिया।

कानपुर देहात-जिले के थाना मूसानगर क्षेत्र के एक गांव की एक नाबालिग छात्रा के साथ पिछले 3 महीने से यौन शोषण किया जा रहा था। छात्रा की उम्र 12 वर्ष बताई गई है, वह कक्षा सात की छात्रा बताई जा रही है। छात्रा की मां द्वारा बताया गया कि मेरे पति की 2 वर्ष पहले मृत्यु हो गयी थी। पालन पोषण करने के लिए वह गुजरात में रहकर दो बच्चों के साथ प्राइवेट कंपनी में काम करके जीवन यापन कर रही थी। वहीं 3 बच्चों को अपने मायके में मां बाप के पास छोड़ रखे थे। आरोप है कि नाबालिग पीड़ित छात्रा के बड़े पापा व उनकी विवाहित बेटी चार-पांच माह पहले उसे उसके ममाने बुंदेलखंड से अपने घर ले आए थे।

 

इस तरह बनाई योजना और फिर

सके बाद पीड़िता के बड़े पापा की बेटी की नंद के भांजे को पोरसा मध्य प्रदेश से यहां बुला लिया गया। इसके बाद नशे की गोलियां खिलाकर आरोपित नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया गया। आरोपित 3 माह से तक यह कुकृत्य उसके साथ करता रहा। पीड़ित छात्रा की मां 5 दिन पहले जब गुजरात से गांव परिवार की एक तेरहवीं के कार्यक्रम में आई। इस बीच 2 दिन बाद ही पीड़ित छात्रा ने उल्टी करना चालू कर दिया। जब उससे पूछा कि आखिर क्या दिक्कत है तो वह बोली मम्मी मुझे अजीब सा लग रहा है। फिर उसने जो दास्तान बयां की तो सुनकर मां की आंखे छलक आईं। पीड़िता द्वारा बताया गया कि उसको कसम खिलाई गई थी कि 2 वर्ष पहले तुम्हारे पिताजी खत्म हो चुके हैं। अगर तुमने किसी को कुछ बताया तो तुम्हारी मां भी खत्म हो जाएगी।

 

इस तरह करते थे नाबालिग का शोषण

जब पीड़ित की मां द्वारा दबाव देकर पूंछा गया तो मासूम द्वारा बताया गया कि तेरी दीदी के नंद का कोई लड़का है, जो हर दूसरे तीसरे दिन आता जाता रहा है और मुझे कोल्ड्रिंक पिला दिया करता था। कभी चूर्ण खिला दिया करता था। इसमें चचेरी बहन उनकी मदद करती थी। छात्रा की मां द्वारा बताया गया कि मेरी बेटी के शरीर में खरोच के निशान हैं। मेरी बेटी प्रेग्नेंट पाई गई है। पीड़ित छात्रा की मां द्वारा थाना मूसानगर में मुकदमा लिखाया गया है। घटना की सूचना मिलते ही थाना मूसानगर पहुंचे एडिशनल एसपी व सीओ भोगनीपुर ने तत्काल प्रभाव से थानाध्यक्ष को आदेशित करते हुए गिरफ्तारी के आदेश दिए। इसके बाद थानाध्यक्ष रामबहादुर सिंह पाल ने पुलिस बल के साथ तत्काल प्रभाव से दबिश देकर आरोपियों को हिरासत में लिया। वहीं पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए भेज गया है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned