scriptZika positive woman gives birth to twins in Kanpur, doctor said | कानपुर में जीका पॉजिटिव महिला ने जुड़वा बच्चों को दिया जन्म, विशेषज्ञों ने बतायी ये बात | Patrika News

कानपुर में जीका पॉजिटिव महिला ने जुड़वा बच्चों को दिया जन्म, विशेषज्ञों ने बतायी ये बात

जुड़वां में एक बच्चा स्वस्थ बताया गया है। वहीं दूसरे की हालत गंभीर बताई है, उसे नर्सिंग होम के आईसीयू में रखा गया है। बच्चे की धड़कन और सांस लेने में दिक्कत है। साथ ही लिवर भी प्रभावित है। विशेषज्ञ बच्चे की मॉनीटरिंग कर रहे हैं।

कानपुर

Published: November 18, 2021 05:18:35 pm

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
कानपुर. जीका वायरस (Zika Virus) को लेकर जहां कानपुर में स्वास्थ विभाग अलर्ट है। वहीं कानपुर में जीका संक्रमित एक महिला (Zika Positive Pregnant Woman) के प्रसव का पहला मामला सामने आया है। महिला ने जुड़वा बच्चों (Twins Baby) को जन्म दिया है। जिसमें एक बच्चा स्वस्थ बताया गया, जो मां के पास है। वहीं दूसरे नवजात की हालत गंभीर बताई है, उसे नर्सिंग होम के आईसीयू में रखा गया है। बच्चे की धड़कन और सांस लेने में दिक्कत है। साथ ही लिवर भी प्रभावित है। विशेषज्ञ बच्चे की मॉनीटरिंग कर रहे हैं। काजीखेड़ा निवासी भरत महतो की पत्नी प्रतिमा की आठ नवंबर को जीका संक्रमित रिपोर्ट आई थी। उस वक्त गर्भधारण का आखिरी सेमेस्टर था।
कानपुर में जीका पॉजिटिव महिला ने जुड़वा बच्चों को दिया जन्म, विशेषज्ञों ने बतायी ये बात
कानपुर में जीका पॉजिटिव महिला ने जुड़वा बच्चों को दिया जन्म, विशेषज्ञों ने बतायी ये बात
गीतानगर के नर्सिंग होम में गर्भवती हुई थी भर्ती

कानपुर के गीतानगर स्थित प्रावी वीमेंस एंड चाइल्ड हेल्थ केयर सेंटर में प्रतिमा को भर्ती कराया गया था। भरत महतो के मुताबिक 12 नवंबर को डॉ. मोनिका सचदेवा ने ऑपरेशन से पत्नी का प्रसव कराया। जुड़वा बच्चों में एक ठीक है। मगर डॉक्टर ने दूसरे बच्चे की हालत गंभीर बताई है। प्रतिमा को मंगलवार को अस्पताल से घर भेज दिया गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जाकर उसका यूरीन सैंपल लिया है। प्रतिमा ने बताया कि जीका संक्रमित होने के बाद उसे कुछ समस्या नहीं हुई। वह बच्चे को लेकर परेशान हैं। पहले डॉक्टर बता रहे थे कि बच्चे ठीक हैं। आईसीयू में भर्ती नवजात की स्थिति जीएसवीएम मेडिकल कालेज के बालरोग विशेषज्ञों ने भी देखी।
विशेषज्ञों के मुताबिक जीका संबंधित समस्या नहीं

उनका कहना है कि बच्चे को माइक्रोसेफली या जीका से संबंधित कोई समस्या नहीं है। भरत महतो ने बताया कि शादी के आठ साल बाद पत्नी का यह पहला प्रसव है। उन्होंने बताया कि नर्सिंगहोम का खर्च अधिक है, इसलिए बच्चे का इलाज कराने में दिक्कत आ रही है। कानपुर में अभी तक मिले जीका संक्रमितों में नौ गर्भवती महिलाएं हैं। इनमें दो गर्भवती जीका निगेटिव हो चुकी हैं। एक महिला का प्रसव हुआ है। स्वास्थ्य विभाग की टीमें छह महिलाओं की मॉनीटरिंग कर रही हैं। गर्भधारण के दौरान किसी गर्भवती को कोई दिक्कत रिपोर्ट नहीं की गई।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

भाजपा की दर्जनभर सीटें पुत्र मोह-पत्नी मोह में फंसीं, पार्टी के बड़े नेताओं को सूझ नहीं रह कोई रास्ताविराट कोहली ने छोड़ी टेस्ट टीम की कप्तानी, भावुक मन से बोली ये बातAssembly Election 2022: चुनाव आयोग ने रैली और रोड शो पर लगी रोक आगे बढ़ाई,अब 22 जनवरी तक करना होगा डिजिटल प्रचारभारतीय कार बाजार में इन फीचर के बिना नहीं बिकेगी कोई भी नई गाड़ी, सरकार ने लागू किए नए नियमUP Election 2022 : भाजपा उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी, गोरखपुर से योगी व सिराथू से मौर्या लड़ेंगे चुनावमौसम विभाग का इन 16 जिलों में घने कोहरे और 23 जिलों में शीतलहर का अलर्ट, जबरदस्त गलन से ठिठुरा यूपीBank Holidays in January: जनवरी में आने वाले 15 दिनों में 7 दिन बंद रहेंगे बैंक, देखिए पूरी लिस्टUP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्य
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.