दिनभर गूंजे बंशीवारे के जयकारे

दिनभर गूंजे बंशीवारे के जयकारे

Vinod Sharma | Publish: Apr, 17 2018 12:16:02 PM (IST) Karauli, Rajasthan, India

करौली ञ्च पत्रिका यहां सोमवती अमावस्या पर सोमवार को प्रसिद्ध मदनमोहनजी मंदिर में सुबह से श्रद्धालुओं की काफी भीड़ रही और दिनभर बंशी वारे के जयकारे गूं

करौली ञ्च पत्रिका यहां सोमवती अमावस्या पर सोमवार को प्रसिद्ध मदनमोहनजी मंदिर में सुबह से श्रद्धालुओं की काफी भीड़ रही और दिनभर बंशी वारे के जयकारे गूंजते रहे। दिनभर गूंजे बंशीवारे के जयकारे
यूं तो प्रत्येक अमावस्या पर ही दर्शनार्थियों की मदनमोहनजी मंदिर में भीड़ आती है लेकिन इस बार सोमवती अमावस्या के कारण भीड़ अधिक थी। ग्रामीण क्षेत्रों से महिला-पुरुष सुबह ही मंदिर पहुंच गए और पट खुलने से पहले मंदिर में बैठकर भजन-कीर्तन करते रहे।
सुबह से ही बस स्टैण्ड से लेकर मंदिर मार्ग में भीड़ के कारण राह निकलना मुश्किल हुआ। पुलिस ने भीड़ को देखते हुए ऑटो सहित अन्य वाहनों की शहर में आवाजाही रोके रखी। इससे काफी राहत मिली। फिर भी दुपहिया वाहनों के कारण जाम लगने की बार -बार नौबत आर्ई। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस के व्यापक प्रबंध किए गए। महिलाओं ने तुलसी की १०८ परिक्रमा लगाई। इस दौरान दान-पुण्य में दिन बीता। स्थानीय सहित आसपास के गांवों से भी महिलाएं दर्शन को पहुंची। शहर से बैण्डबाजों की धुन पर मदनमोहनजी के लिए पोशाक भी गई।
यहां सोमवती अमावस्या पर सोमवार को प्रसिद्ध मदनमोहनजी मंदिर में सुबह से श्रद्धालुओं की काफी भीड़ रही और दिनभर बंशी वारे के जयकारे गूंजते रहे।
यूं तो प्रत्येक अमावस्या पर ही दर्शनार्थियों की मदनमोहनजी मंदिर में भीड़ आती है लेकिन इस बार सोमवती अमावस्या के कारण भीड़ अधिक थी। ग्रामीण क्षेत्रों से महिला-पुरुष सुबह ही मंदिर पहुंच गए और पट खुलने से पहले मंदिर में बैठकर भजन-कीर्तन करते रहे। सुबह से ही बस स्टैण्ड से लेकर मंदिर मार्ग में भीड़ के कारण राह निकलना मुश्किल हुआ। पुलिस ने भीड़ को देखते हुए ऑटो सहित अन्य वाहनों की शहर में आवाजाही रोके रखी। इससे काफी राहत मिली। फिर भी दुपहिया वाहनों के कारण जाम लगने की बार -बार नौबत आर्ई। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस के व्यापक प्रबंध किए गए। महिलाओं ने तुलसी की १०८ परिक्रमा लगाई। इस दौरान दान-पुण्य में दिन बीता। स्थानीय सहित आसपास के गांवों से भी महिलाएं दर्शन को पहुंची। शहर से बैण्डबाजों की धुन पर मदनमोहनजी के लिए पोशाक भी गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned