दुल्हन की होने वाली थी विदाई, दूल्हे को लेकर हुआ चौंकाने वाला खुलासा, मचा बवाल

क्षेत्र के जौंल गांव में एक विवाह आयोजन में दो दिन से बवाल मचा हुआ है। इस कारण से दो दिन से दुल्हन की विदाई नहीं हो पाई है और दूल्हा और उसके परिजनों को वधू पक्ष ने रोका हुआ है।

By: kamlesh

Published: 01 Mar 2020, 03:14 PM IST

टोडाभीम। क्षेत्र के जौंल गांव में एक विवाह आयोजन में दो दिन से बवाल मचा हुआ है। इस कारण से दो दिन से दुल्हन की विदाई नहीं हो पाई है और दूल्हा और उसके परिजनों को वधू पक्ष ने रोका हुआ है। विवाद को पंचायत के जरिए से पंच पटेल मामले के निस्तारण में लगे हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार दौसा जिले में महवा के पास से एक बारात 27 फरवरी को टोडाभीम क्षेत्र के गांव में पहुंची थी। दूल्हे ने अग्नि के समक्ष सात फेरे भी ले लिए। सुबह जब दुल्हन की विदाई की जाने वाली थी तभी पता चला कि दूल्हे की तो पहले से पत्नी और बच्चे हैं। ग्रामीणों के अनुसार विदाई के मौके पर एक महिला ने मौके पर पहुंच कर दावा किया कि जो दूल्हा है वो उसका पति है। उसके दो बच्चे भी हैं।

उसने इस बारे में दस्तावेज भी लोगों को दिखाए। इस खुलासे से शादी के बीच बवाल मच गया। वधु पक्ष ने विदाई को टालते हुए दूल्हा और उसके परिजनों को कथित तौर पर बंधक बना लिया। वधु पक्ष के लोगों ने बताया कि दूल्हे के परिजनों ने दूल्हे के पहले से शादी शुदा होने के बारे में जानकारी नहीं दी थी।

इसके बाद से ही गांव के पंच पटेल दोनों पक्षों के बीच सुलह कराने में लगे हुए हैं। दूल्हे के गांव से भी काफी लोग जौल गांव में पहुंच गए हैं। शनिवार को देर शाम तक समझाइश का दौर चलता रहा।

हालांकि संकेत मिले हैं कि रात तक इस मामले का निस्तारण कर दिया जाएगा। इस मामले में वर-वधु पक्ष ने किसी तरह की कोई बात करने से मना किया। पंच पटेलों ने इसे सामाजिक मामला बताकर टाल दिया जबकि थाना प्रभारी मनोहरलाल मीना ने अनभिज्ञता दिखाई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned