फोन करो घर पर आएगा सामान, प्रशासन ने की होम डिलेवरी की व्यवस्था

फोन करो घर पर आएगा सामान, प्रशासन ने की होम डिलेवरी की व्यवस्था, सब्जी, फल की भी होम डिलेवरी सुविधा।
करौली. लॉक डाउन की स्थिति में आमजन को जरूरत का सामान उपलब्ध कराने के लिए प्रशासन ने व्यवस्था निर्धारित की है। जिला कलक्टर डॉ. मोहन लाल यादव ने बताया कि लोग दुकानों के खुलने पर भीड़ की स्थिति पैदा कर रहे हैं जिससे संक्रमण की आशंका रहती है, इस कारण होम डिलेवरी की व्यवस्था शुरू की गई है।


सब्जी, फल की भी होम डिलेवरी सुविधा
करौली. लॉक डाउन की स्थिति में आमजन को जरूरत का सामान उपलब्ध कराने के लिए प्रशासन ने व्यवस्था निर्धारित की है।
जिला कलक्टर डॉ. मोहन लाल यादव ने बताया कि लोग दुकानों के खुलने पर भीड़ की स्थिति पैदा कर रहे हैं जिससे संक्रमण की आशंका रहती है, इस कारण होम डिलेवरी की व्यवस्था शुरू की गई है। इस व्यवस्था में नगरपरिषद के पार्षद को फोन करके उस वार्ड क्षेत्र के दुकानदार से जरूरत की सामग्री मंगाई जा सकती है। इस संबंध में समस्त पार्षदों को निर्देशित किया गया है कि वे वार्ड में स्थित किराना स्टोर के माध्यम से दैनिक उपयोग की सामग्री डोर टू डोर उपलब्ध करवाने में सहयोग करेंगे। आटे के बैग के लिए वाहन प्रत्येक मोहल्ले और कॉलोनी में जाएंगे।
प्रशासन की ओर से जरूरी सामान घर बैठे मंगाने के लिए अनेक दुकानदारों के नम्बर जारी किए हैं। वे घरों पर सामान की सप्लाई करेंगे। उन्होंने बताया कि सामान की दर अधिक वसूलने पर सम्बंधित दुकानदार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसी प्रकार अलग-अलग वार्ड क्षेत्र के लिए सब्जी, फल बिक्रेताओं के नम्बर भी जारी किए गए हैं जो फोन करने पर घरों पर फल और सब्जी उपलब्ध कराएंगे। कलक्टर ने बताया कि इसके पीछे मंशा केवल यह है कि लोग घरों से बाहर नहीं निकलें। बाजार में ज्यादा भीड़ से संक्रमण की आशंका अधिक रहती है।
वाहनों से हर मोहल्ले में बिकेगा आटा
करौली. बाजार में लॉकडाउन की स्थिति में खाद्य वस्तुओं को लेकर मची आपाधापी को लेकर जिला कलक्टर ने डॉ. मोहनलाल यादव में आश्वस्त किया है कि जरूरी सामान की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे खाद्य वस्तुओं की खरीद को लेकर चिंतित न हों। उनके मोहल्ले, कॉलोनियों में ही सामान की आपूर्ति के प्रबंध किए जा रहे हैं। इसी क्रम में जिला रसद अधिकारी राम सिंह मीणा ने करौली के आटा मिल संचालकों के साथ बैठक की। इसमें तय किया गया कि निर्धारित दर पर वाहनों के जरिए से शहर में रोजना आटे की बिक्री की जाएगी। इसकी पालना में बुधवार को वाहनों के जरिए से अलग अलग क्षेत्रों में वाहनों से आटे की आपूर्ति का गई। जिला रसद अधिकारी रामसिंह मीणा ने कि 10 किलो आटे का पैकिट 240 रुपए, 25 किलो आटा पैकिट 600 रुपए में , 50 किलो आटा 1200 रुपए की दर में उपलब्ध होगा। उन्होंने बताया कि आटे को बेचने के लिए वाहन कस्बे में नियमित घूमेगा।

Surendra Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned