बाघ टी 104 को किया ट्रेंकुलाइज

बाघ टी 104  को किया ट्रेंकुलाइज
बाघ टी 104 को किया ट्रेंकुलाइज

Vinod Sharma | Publish: Sep, 18 2019 07:12:00 PM (IST) Karauli, Karauli, Rajasthan, India

करौली. करीब एक सप्ताह पहले सपोटरा के सिमिर बाग में युवक पिंटूू माली पर हमला करने वाले (Caught tiger 104) टाइगर टी- १०४ को वन विभाग की करौली व सवाईमाधोपुर की टीमों ने बुधवार को ट्रेंकुलाइज कर लिया। बाघ को सवाईमाधोपुर के रणथम्भौर अभयारण्य ले जाया गया है।

करौली. करीब एक सप्ताह पहले सपोटरा के सिमिर बाग में युवक पिंटूू माली पर हमला करने वाले (Caught tiger 104) टाइगर टी- १०४ को वन विभाग की करौली व सवाईमाधोपुर की टीमों ने बुधवार को ट्रेंकुलाइज कर लिया। बाघ को सवाईमाधोपुर के रणथम्भौर अभयारण्य ले जाया गया है।
उप वन संरक्षक श्रवणकुमार रेड्डी ने बताया कि टाइगर को शाम ४. ४० बजे गोराहार के सूरज धह के पास बुर्जा नामक स्थान पर ट्रेंकुलाइज किया गया। उल्लेखनीय है कि सिमिर-बाग गांव में घर के आंगन में चारपाई पर सो रहे युवक पिंटू (३०) पुत्र रामसहाय माली पर टाइगर १०४ ने १२ सितम्बर को हमला कर दिया था। टाइगर उसे घसीटकर समीप ही खेत में ले गया, जिससे युवक की मौत हो गई थी। इसके बाद से वन विभाग की टीम लगातार उसे ट्रंकुलाइज करने के प्रयासों में जुटी थी, लेकिन बाघ के गहरी खाई में चले जाने से टीम के प्रयास सफल नहीं हो पा रहे थे। वहीं टाइगर के ट्रेंकुलाइज नहीं हो पाने से इलाके के ग्रामीण भी भयभीत थे। लेकिन अब बाघ के पिंजरे में कैद होने से वन विभाग और ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।


करौली जिले में दूसरी बार ट्रेंकुलाइज
टाइगर टी- १०४ को करौली जिले में दूसरी बार ट्रेंकुलाइज किया गया है। इससे पहले गत ११ अगस्त को भी इसी बाघ को वन विभाग की टीम ने मासलपुर इलाके में ठेकरा गौशाला के समीप ट्रेंकुलाइज किया था। उस समय टाइगर ने ३० जुलाई को करौली के समीप दुर्गेसीघटा इलाके में चरवाहे पर हमला किया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned