राजस्थान में अब विद्युत मीटरों में भी चिप लगाकर की जा रही बिजली चोरी, 8 सदस्यीय सतर्कता दल ने यहां ढूंढ निकाला

जानिए कैसे मीटरों में चिप लगाकर कर रहे चोरी..

By: Vijay ram

Published: 20 Jul 2018, 10:26 PM IST


करौली.
सूबे में अब विद्युत मीटरों में चिप लगाकर बिजली चोरी करने का मामला सामने आया हैे। जयपुर डिस्कॉम के सतर्कता दल ने ऐसे दो मीटर जब्त किए हैं।

 

जब्त मीटरों को जांच के लिए निगम की जयपुर स्थित लैब भेजा गया गया है। निगम के दल ने क्षेत्र में ७०० मीटरों की जांच की। बिजली निगम के जेईएन मनोज बैरवा ने बताया कि महूइब्राहिमपुर, महूदलालपुर व महूखास गांवों के थ्री फेज व सिंगल फेज विद्युत उपभोक्ताओं के मीटर, लाइन आदि की आठ सदस्यीय सतर्कता दल ने सुपरवाइजर आनंद जांगिड़ के नेतृत्व में जांच की। इस दौरान दो उपभोक्ताओं के विद्युत मीटरों में चिप लगी हुई मिली, जिसके माध्यम से कम वॉल्टेज दिखाते हुए विद्युत चोरी की जा रही थी।

 

इस बारे में जानकारी मिलने पर जेईएन बैरवा मौके पर पहुंचे और दोनों उपभोक्ताओं की बीसीआर जारी करने के साथ मीटरों को जब्त कर लिया। सतर्कता दल ने कई विद्युत कनेक्शनों पर कम मीटर लोडिंग, आरमड कट व जंपर के माध्यम से भी बिजली चोरी भी पकड़ी है। सर्तकता दल में आनंद जांगिड़ के साथ पवन सैन, विजय मीना, अरूण सिंह लहकोडिया, पवन सैनी, सुदामा जांगिड़ आदि
शामिल थे।

 

फर्जी एएसपी बनकर ठगी करने वाला अधिकारी गिरफ्तार
हिण्डौनसिटी. फर्जी एएसपी बनकर ठगी करने वाले पूर्व बैंक अधिकारी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पूछताछ के बाद पुलिस ने उसे अदालत में पेश किया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत भेजे जाने के आदेश दिए गए।

 

थाना प्रभारी आध्यात्म गौतम ने बताया कि नई मंडी स्थित पेट्रोल पंप विश्वनाथ एंड कंपनी के संचालक मोहननगर निवासी घासीलाल अग्रवाल ने २१ जनवरी २०१८ को रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि १९ जनवरी को उसके मोबाइल पर कॉल करने वाले व्यक्ति ने स्वयं को करौली का अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) बताते हुए रुपयों की जरूरत बताई और पंजाब नेशनल बैंक तथा स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के दो खाते नंबर बताते हुए दोनों में २५-२५ हजार रुपए डलवाने के लिए कहा। यह भी कहा कि हिण्डौन के पुलिस अधिकारी के माध्यम से ये रुपए कुछ दिन बाद वापस भेज दिए जाएंगे। इस पर घासीलाल अग्रवाल ने दोनों खातों में २५-२५ हजार रुपए डलवा दिए। घासीलाल ने जब अगले दिन बैंक खाते व मोबाइल नंबर की जांच की तो उसे ठगी का पता चला और थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। इस मामले में पुलिस ने बैंक खातों व मोबाइल नंबर के आधार पर जांच की तो बंूदी के सदर बाजार की लुहार गली निवासी राजीव जैन (३२) पुत्र निर्मल जैन नामजद हुआ, जिसे पुलिस ने प्रोडक्शन वारंट पर जयपुर की सेन्ट्रल जेल से गिरफ्तार किया है।

Vijay ram
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned