scriptEngineer did not come, CB not machine for TB test is canned for five m | नहीं आए इंजीनियर, पांच माह से डिब्बा बंद है टीबी जांच की सीबी नॉट मशीन | Patrika News

नहीं आए इंजीनियर, पांच माह से डिब्बा बंद है टीबी जांच की सीबी नॉट मशीन

Engineer did not come, CB not machine for TB test is canned for five months
दो माह पहले इंस्टॉलेशन के लिए भेजा था पत्र.. जिला अस्पताल में 32 लाख की मशीन का रोगियों को नहीं मिल रहा लाभ

करौली

Published: May 04, 2022 10:49:34 pm

हिण्डौनसिटी. जिला चिकित्सालय में रखी सीबी नॉट मशीन के इंस्टॉलेशन के लिए पत्र लिखने के दो माह बाद भी इंंजीनियर नहीं आए हैं। ऐसे में राज्य सरकार द्वारा भिजवाई सीबी नॉट मशीन लेबोरेट्री में पांच माह से डिब्बाबंद रखी है। ऐेसे में करीब 32 लाख रुपए की कीमत की मशीन क्षय (टीबी) रोगियों की मल्टी ड्रग रेजिस्ट्रेट जांच के लिए उपयोग नहीं हो पा रहा है।
नहीं आए इंजीनियर, पांच माह से डिब्बा बंद है टीबी जांच की सीबी नॉट मशीन
नहीं आए इंजीनियर, पांच माह से डिब्बा बंद है टीबी जांच की सीबी नॉट मशीन

चिकित्सालय सूत्रों के अनुसार से बीते वर्ष दिसम्बर माह में क्षय रोगियों को जांच में त्वरितता व गुणवत्ता के लिए सीबी नॉट मशीन चिकित्सालय में उपलब्ध कराई थी। फरवरी माह के पहले पखबाड़े में मशीन के लिए अलग से वातानुकूलित केबिन तैयार कराया गया। केबिन बनने पर चिकित्सालय प्रशासन व जिला क्षय रोग अधिकारी ने मशीन के इंस्टॉलेशन (स्थापन) के लिए अजमेर की इंटरमीडियर रैफरल लेबोरेट्री (आईआरएल) को इंजीनियर्स भेजने के लिए भेजा था।
सप्ताह -दर सप्ताह के इंतजार के बाद दो माह से अधिक निकलने के बाद भी इंजीनियर्स नहीं आए। जबकि चिकित्सालय में मशीन के इंस्टॉलेशन के लिए सभी तैयारियां पूरी कर दी गई हैं। ऐसे में चिकित्सालय की लेबोरेट्री में टीवी रोगियों के कफ के नमूनों की जांच ट्रू नॉट मशीन से ही करनी पड रही है। जिसे रोगियों को जांच रिपोर्ट के लिए घंटों इंतजार करना पड़ता। उल्लेखनीय है कि ट्रूनॉट मशीन से एक बार में दो सेम्पल लग पाते हैं। सेम्पल की जांच में दो घंटे का समय लगता है। जबकि सीबी नॉट मशीन से इस अवधि में एक साथ 4 नमूनों की जांच हो जाती है।

हर रोज होती 30 -35 सेम्पल की जांच-
्रप्रयोगशाला में टीबी की जांच के लिए प्रति दिन 30-35 रोगियों के बलगम सेम्पल लिए लाते हैं। माइक्रोस्कोपिक की प्रारंभिक जांच में रोगी के पॉजिटिव (टीबी संक्रमित) मिलने पर मल्टी ड्रग रेजिस्ट्रेट के लिए ट्रू नॉट मशीन पर सेम्पल की जांच की जाती है। ऐसे सेम्पलों की संख्या 6 से 8 होती है। लेकिन मशीन में एक बार में दो सेम्पल ही लग पाते हैं। ऐसे में आठ सेम्पलों की जांच में 4 घंटे का समय लगता है।
क्या है सीबी नॉट मशीन
चिकित्सकों के अनुसार टीबी (क्षयरोग) के बैक्टीरिया की जांच में सीबी नॉट मशीन अतिसुग्राही है। यह कार्टिरिज बेस्ड,न्यूक्लिक ऐसिड, एम्पलिफिकेशन टेस्ट के तहत जांच करती है। जो बलगम व अन्य सेम्पल से एक अदद बैक्टीरिया की मौजूदगी को भी जांच लेती है। जबकि माइक्रोस्कोपिक जांच में एक-दो बैक्टीरिया का पता नहीं चल पाता है। सीबी नॉट मशीन मशीन ना सिर्फ टीबी के बैक्टीरिया का पता लगाती है, बल्कि उसकी एमडीआर (मल्टी ड्रग रेजिस्टेंस) जांच भी करती है। जिससे रोगी के लिए कौनसी व किस स्तर की दवा शुरू करनी है , का पता भी चलता है।

इनका कहना है।
सीबी नॉट मशीन के इंस्टॉलेशन के लिए आईआरएल को पत्र भेजा हुआ है। आगामी दिनों में इंजीनियर्स के आने की उम्मीद है। जल्द ही लेबोरेट्री में सीबी नॉट मशीन से जांचे शुरू हो सकेंगी। हालांकि ट्र नॉट मशीन से जांच कार्य सुचारू है।
डॉ. नमोनारायण मीणा, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी
जिला चिकित्सालय हिण्डौनसिटी.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

अनिल बैजल के इस्तीफे के बाद Vinai Kumar Saxena बने दिल्ली के नए उपराज्यपालISI के निशाने पर पंजाब की ट्रेनें? खुफिया एजेंसियों ने दी चेतावनीममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'भाजपा का तुगलगी शासन, हिटलर और स्टालिन से भी बदतर'Haj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हरायालगातार बारिश के बीच ऑरेंज अलर्ट जारी, केदारनाथ यात्रा पर लगी रोक, प्रशासन ने कहा - 'जो जहां है वहीं रहे'‘सिंधिया जिस दिन कांग्रेस छोडक़र गए थे, उसी दिन से उनका बुढ़ापा शुरू हो गया था’Asia Cup Hockey 2022: अब्दुल राणा के आखिरी मिनट में गोल की वजह से भारत ने पाकिस्तान के साथ ड्रा पर खत्म किया मुकाबला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.