खेत बन गए तालाब, कई रास्तों में जलभराव से थमी आवाजाही

 

खेत बन गए तालाब, कई रास्तों में जलभराव से थमी आवाजाही

महावीरजी, टोडाभीम इलाके में फसल के डूबने से नुकसान की आशंका

करौली जिले में बीते तीन दिन से मानसून की सक्रीयता से नदी- तालाब, एनिकटों और बांधों में जल स्तर बढ़ता जा रहा है। जबकि कई रास्तों में जलभराव से आवागमन बाधित हुआ है। महावीरजी इलाके में तीन दिन में 370 एमएम (15इंच) तथा टोडाभीम में 225 एमएम से अधिक बारिश होने से खेतों में पानी भर गया है। करौली के पांचना बांध में पानी की लगातार आवक होने से बांध का जलस्तर 256.70 मीटर पह पहुंचा है।

By: Surendra

Published: 31 Jul 2021, 08:45 PM IST


करौली जिले में बीते तीन दिनों से हो रही बारिश से नदी-तालाबों, एनिकटों और बांधों में पानी की आवक हुई है

खेत बन गए तालाब, कई रास्तों में जलभराव से
थमी आवाजाही

महावीरजी, टोडाभीम इलाके में फसल के डूबने से नुकसान की आशंका

करौली जिले में बीते तीन दिन से मानसून की सक्रीयता से नदी- तालाब, एनिकटों और बांधों में जल स्तर बढ़ता जा रहा है। जबकि कई रास्तों में जलभराव से आवागमन बाधित हुआ है। महावीरजी इलाके में तीन दिन में 370 एमएम (15इंच) तथा टोडाभीम में 225 एमएम से अधिक बारिश होने से खेतों में पानी भर गया है। पानी में फसल डूबने से नुकसान की आशंका है। करौली के पांचना बांध में पानी की लगातार आवक होने से बांध का जलस्तर 256.70 मीटर पह पहुंचा है। बीते तीन दिन में बांध का स्तर दो मीटर तक बढ़ गया है। बांध की कुल भराव क्षमता 258. 62 मीटर पर है। जिले में बारिश की स्थिति शनिवार को शुक्रवार की अपेक्षा कम रही लेकिन मौसम बारिश का ही बना रहा। बीच-बीच में बल्की बूंदाबांदी भी होती हुई।

बारिश के चलते सपोटरा क्षेत्र में सिमिर गांव के चारों ओर नदी के पानी की आवक के कारण गांव के सारे रास्ते बंद हुए हैं। सपोटरा से सिमिर गांव जाने वाले रास्ते के बीच पुलिया के नीचे होने से नदी में अधिक पानी आने पर पुलिया के ऊपर पानी बहने लगता है। दो दिन से पुलिया के ऊपर 5 से 7 फीट तक पानी आ जाने के कारण यह रास्ता बंद हुआ है। यहां से कोई वाहन नहीं निकल पा रहे हैं। इससे सिमिर के ग्रामीणों का सम्र्पक कट गया है।

इसी प्रकार सपोटरा क्षेत्र में रानेटा गांव से बालाहेत, जीरोता, गोरधनपुरा, एकट, खूबपुरा, हाडौती से सवाई माधोपुर की ओर निकलने वाले रास्ते के बीच जलभराव से आवागमन थम गया है। ग्रामीणों ने बताया कि इस रास्ते के बीच एकट पंचायत की खूबपुरा पुलिया पर दो दिन से जल भराव कम नहीं हुआ है।
इससे हाडौती और सवाईमाधोपुर की ओर आवाजाही थमी हुई है। बारिश होने पर इस रास्ते में पानी आने से अमूमन आवागमन बंद हो जाता है। क्षेत्र के ग्रामीण सिमिर तथा खूबपुरा की पुलिया की ऊंचाई बढ़ाने की मांग अधिकारियों तथा जनप्रतिनिधियों से अनेक बार कर चुके हैं।

Surendra Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned