सामूहिक दुष्कर्म करके कुएं में डालने का मामला- पुलिस ने दोनों मुख्य आरोपी किए गिरफ्तार

सामूहिक दुष्कर्म करके कुएं में डालने का मामला- पुलिस ने दोनों मुख्य आरोपी किए गिरफ्तार
एक नाबालिग भी कर लिया था निरुद्ध

करौली। कैलादेवी थाना क्षेत्र के एक गांव के जंगल में बकरी चराने गई किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म करके उसे कुएं में पटक देने के मामले में पुलिस ने दूसरे मुख्य आरोपी को भी बुधवार को सांकडा के जंगलों से गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में तीन जनों को नामजद आरोपित किया गया था। इनमें एक नाबालिग को निरुद्ध करने सहित एक मुख्य आरोपी को पहले गिरफ्तार किया जा चुका है।

By: Surendra

Published: 09 Jun 2021, 09:01 PM IST

सामूहिक दुष्कर्म करके कुएं में डालने का मामला

पुलिस ने दोनों मुख्य आरोपी किए गिरफ्तार
एक नाबालिग भी कर लिया था निरुद्ध

करौली। कैलादेवी थाना क्षेत्र के एक गांव के जंगल में बकरी चराने गई किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म करके उसे कुएं में पटक देने के मामले में पुलिस ने दूसरे मुख्य आरोपी को भी बुधवार को सांकडा के जंगलों से गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में तीन जनों को नामजद आरोपित किया गया था। इनमें एक नाबालिग को निरुद्ध करने सहित एक मुख्य आरोपी को पहले गिरफ्तार किया जा चुका है।

जिला पुलिस अधीक्षक ने बताया कि 22 मई को कैलादेवी थाना क्षेत्र के एक गांव में किशोरी के बकरी चराने जाने के दौरान दुष्कर्म की वारदात की प्राथमिकी किशोरी के पिता ने नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई थी।
इसके बाद से आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रकाश चन्द, कैलादेवी वृत्ताधिकारी महावीर सिंह के निर्देशन में करौली महिला थाना तथा कैलादेवी थाने की चार टीमों का गठन किया गया था।
साथ ही साईबर सैल करौली को भी आरोपियों की तलाश में लगाया हुआ था। उन्होंने जानकारी दी कि इस मामले में एक जून को एक नाबालिग को निरुद्ध करने के बाद एक मुख्य आरोपी रिंकू उर्फ रिंकेश पुत्र रामकेश मीना को 4 जून को गिरफ्तार कर लिया था। दूसरे मुख्य आरोपी रूपसिंह पुत्र रामकेश मीना की लगातार तलाश की जा रही थी।
दोनों मुख्य आरोपियों की तलाश में धोरेरा, डाबरा, लेदिया, झाडौली, मंडरायल- मासलपुर थाना क्षेत्र के जंगलों में दबिश दी गयी थी। पुलिस टीमों द्वारा लगातार पीछा करने और सम्भावित स्थानों पर दबिश देने के कारण वह सांकडा के जंगल में छुप गया था।
जिला स्पेशल टीम के रविन्द्रसिंह हैड कांस्टेबल की टीम व बनवारी लाल मीना पुलिस निरीक्षक थानाधिकारी सपोटरा द्वारा संयुक्त रूप से की गई कार्रवाई में आरोपी रूपसिंह को पकड़ लिया गया।
गौरतलब है कि मामले में भाजपा और बहुजन समाज पार्टी की ओर से आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार ज्ञापन दिए जा रहे थे। भाजपा नेताओं ने कलेक्ट्रेट पर दो दिन पहले धरना भी दिया था।

Surendra Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned