घोड़ी पे होके सवार, शहर में नहीं निकल सकेगा दूल्हा यार

घोड़ी पे होके सवार, शहर में नहीं निकलेगा दूल्हा यारमैरिज गार्डन के गेट पर होगी अतिथियों की थर्मल स्केनिंग,डिनर से पहले हाथ करने होंगे सेनेटाइज

 

By: Anil dattatrey

Published: 25 Nov 2020, 11:38 AM IST

हिण्डौनसिटी. दुल्हनिया को ब्याहने के लिए दूल्हे राजा बारात लेकर तो जाएंगे, लेकिन शहर के बाजार और आम रास्तों से घोड़ी पर सवार होकर नहीं निकल सकेंगे। न ही दोस्त अपने दूल्हे यार की बारात में बैण्ड की धुन में सडक़ों पर ‘आज मेरे यार की शादी है’ जैसे गाने ठुमके लगाने की तमन्ना पूरी नहीं कर सकेंगे। कोरोना संक्रमण के प्रसार की आशंका में सरकार ने मुख्य सडक़ों पर बारात की घुडचढ़ी व डीजे बजाने पर पाबंदी लगा दी है। साथ ही प्रशासन ने मैरिज गार्डन संचालक व आयोजकों को शादी समारोहों में कोविड़ नियमों की कड़ाई से पालना की हिदायत दी है। शादी समारोह में कोरोना संक्रमण से बचाव की मंशा से एसडीओ सुरेश चंद यादव ने मंगलवार को उपखंड कार्यालय में नगर परिषद क्षेत्र के मैरिज होम संचालक व धर्मशालाओं के प्रबंधकों की बैठक ली। जिसमें विवाह में आने वाले अतिथियों की संख्या को नियंत्रित करने व समारोह के दौरान कोरोना एडवाइजरी की पालना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।दोपहर में नगर परिषद आयुक्त प्रेमराज मीणा की मौजूदगी में हुई बैठक में एसडीओ ने कहा कि किसी भी शादी समारोह में 100 से अधिक अतिथियों के नहीं होने, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करने, फेस मास्क का उपयोग करने, तथा नो मास्क नो एंट्री अभियान की पालना सुनिश्चित कराने की हिदायत दी गई। एसडीओ ने कहा कि शादी समारोह के दौरान पर्याप्त मात्रा में हैंड सैनिटाइजर, थर्मल स्कैनिंग के इंतजाम करने, आयोजन स्थल को बार-बार सेनीटाइज किए जाने, मुख्य सडक़ों पर बारात के चढ़ाई व डीजे बजाने के अलावा सार्वजनिक जुलूस पर प्रतिबंध रहेगा। एसडीओ ने साफ कहा कि नियमों की पालना नहीं होने पर मैरिज गार्डन के संचालक या धर्मशाला प्रबंधक के खिलाफ राजस्थान महामारी अधिनियम के अंतर्गत जारी दिशा-निर्देशों के तहत कार्यवाही की जाएगी। बैठक में उपस्थित अधिकारियों को अपने अपने क्षेत्र में आयोजनकर्ता, मैरिज होम संचालकों को गृह विभाग द्वारा जारी गाइडलाइन के साथ-साथ कोविड-19 के सुरक्षा मापदंडों की पूर्ण पालना सुनिश्चित करने, विवाह समारोह के आयोजनकर्ता को आयोजन की वीडियोग्राफी कराने के लिए पाबंद करने के निर्देश दिए। इस दौरान नई मंडी थाने के एएसआई प्रहलाद सिंह, मैरिज होम संचालक बृजेंद्र सिंह धाकड़, देवी शरण शर्मा, विजय सिंह, शैलेंद्र गोयल, पवन चतुर्वेदी, शेखर गेरा, जयप्रकाश गेरा, गोपाल लाल, बंटी बागरेनिया, भगवान सिंह, भागचंद, राजेंद्र कुमार आदि मौजूद थे।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned