बेसहारा बालिकाओं को भेजा बालिका गृह

बेसहारा बालिकाओं को भेजा बालिका गृह

करौली। काफी दिनों से शहर में इधर-उधर की मदद से बेसहारा जीवन यापन कर रही दो बालिकाओं को किशोर न्याय बोर्ड के सदस्यों ने कैलादेवी के बालिका गृह में भेज दिया गया है। इनमें एक की उम्र 6 वर्ष और दूसरी की 4 वर्ष है।
इन बालिकाओं के बेसहारा होने और जीवन यापन में परेशानी की सूचना यातायात प्रभारी टीनू सोगरवाल को मिली थी। इस पर वे मानवीयता दिखाते हुए दोनों बालिकाओं को किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष लेकर पहुंची।

By: Surendra

Published: 06 Jan 2021, 09:14 PM IST

बेसहारा बालिकाओं को भेजा बालिका गृह

करौली। काफी दिनों से शहर में इधर-उधर की मदद से बेसहारा जीवन यापन कर रही दो बालिकाओं को किशोर न्याय बोर्ड के सदस्यों ने कैलादेवी के बालिका गृह में भेज दिया गया है। इनमें एक की उम्र 6 वर्ष और दूसरी की 4 वर्ष है।
इन बालिकाओं के बेसहारा होने और जीवन यापन में परेशानी की सूचना यातायात प्रभारी टीनू सोगरवाल को मिली थी। इस पर वे मानवीयता दिखाते हुए दोनों बालिकाओं को किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष लेकर पहुंची। वहां पर किशोर न्याय बोर्ड के सदस्य दिलीप मीना, अनिल शर्मा, फजले अहमद, शांति समिति सदस्य राघवेंद्र सिंह व चाइल्ड लाइन के मनोज शर्मा आदि ने बालिकाओं से उनके घर व परिवार के बारे में जानकारी लेने की कोशिश की लेकिन दोनों बालिकाएं कुछ न बतला सकीं। इस पर बोर्ड के सदस्यों ने इन दोनों को कैलादेवी में संचालित बालिका गृह में भेज दिया।
प्रभारी टीनू सोगरवाल ने बताया कि वहां पर इनको शिक्षा, आवास की मुफ्त सुविधा मिल सकेगी। उन्होंने बताया कि दोनों बालिकाएं छोटी है और अभी उनको भविष्य बनाने की जरूरत है। उनके बेहतर भविष्य की मंशा से किशोर न्याय बोर्ड ने दोनों बालिकाओं को आवास गृह में भेजा है।

Surendra Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned