करौली के दो छात्रों ने गाड़े झंडे, जीप चालक के बेटे ने किया विश्वविद्यालय को टॉप

स्थानीय राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के दो छात्रों ने कोटा व राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर में एमएससी (गणित) की प्रवेश परीक्षा में टॉप किया है।

करौली। स्थानीय राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय के दो छात्रों ने कोटा व राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर ( rajasthan university ) में एमएससी (गणित) की प्रवेश परीक्षा में टॉप किया है। दोनों ही छात्र गरीब घर से है। करौली कॉलेज ( Karauli College ) के टॉपर और कोटा विश्वविद्यालय में प्रथम रैंक प्राप्त करने वाले सीतारााम प्रजापत के पिता साक्षर है, जीप चालक है। दोनों ने फेसबुक, वाट्सएप से दूरी तथा नियमित पढ़ाई से मुकाम हासिल किया है।

कैलादेवी के निवासी सीताराम प्रजापत पुत्र धनीराम प्रजापत ने विज्ञान संकाय में प्रथम साल से ही सबसे अधिक अंक प्राप्त किए। बीएससी अंतिम वर्ष में 82.02 अंक प्राप्त कर कॉलेज को टॉप किया है। प्रजापत ने एमएससी (गणित) में प्रवेश परीक्षा परीक्षा कोटा विश्वविद्यालय कोटा व राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर से दी। जिसमें कोटा में प्रथम रैंक तथा राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर में 20वीं रेंक मिली है।

पापा ने पढ़ाई के लिए बढ़ाया हौंसला
सीताराम ने बताया कि वह रोजाना सात घंटे अनिवार्य रूप से पढ़ता है, घर के किसी कार्यक्रम में जाना भी पड़े तब भी पढ़ाई के लिए समय जरूर निकालता है, उसके पापा गरीब घर से है तथा जीप चालक है। लेकिन पापा ने पढ़ाई के लिए हमेशा हौंसला बढ़ाया है। परिवार में माता-पिता के अलावा दो भाई व एक बहन है।

आरयू में टॉप, कोटा में आठवीं रैंक
इसी महाविद्यालय के दूसरे छात्र चन्द्रप्रकाश प्रजापत पुत्र रमेशलाल कुम्हार निवासी मासलपुर ने एमएससी प्रवेश परीक्षा में राजस्थान विश्वविद्यालय (आरयू) में प्रथम रेंक प्राप्त की है, उसने कोटा विश्वविद्यालय से भी इंट्रेंस दी, जिसमें आठवां स्थान मिला है।

सोशल मीडिया से दूरी
चन्द्रप्रकाश की बीएससी में 76.09 प्रतिशत रही, उसने बताया कि सोशल मीडिया से लगभग दूरी है, अब परीक्षा का परिणाम आने के बाद जरूर फेसबुक चालू की है। लेकिन पढ़ाई के समय शत प्रतिशत इससे दूर रहता हैं। उसने बताया कि छह घंटे का नियमित अध्ययन ही उसकी सफलता का श्रेय है। उसकी कॉलेज लेक्चर बनने की इच्छा है।

कॉलेज का नाम किया रोशन
राजकीय महाविद्यालय के प्राचार्य लक्ष्मीचंद मीना ने बताया कि दोनों ही छात्रों ने करौली कॉलेज का नाम कोटा व राजस्थान विश्वविद्यालय में रोशन किया है। उन्होंने बताया कि बीएससी अंतिम वर्ष की परिणाम की हॉर्डकॉपी प्राप्त नहीं हुई है। लेकिन एमएससी इंट्रेस में दोनों ही छात्रों ने अलग-अलग विश्वविद्यालय से टॉप कर करौली का मान बढ़ाया है तथा कॉलेज के लिए गर्व की बात है।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned