scriptgravel mining threatens banas river | बजरी खनन से बनास नदी को खतरा | Patrika News

बजरी खनन से बनास नदी को खतरा

 

बजरी खनन से बनास नदी को खतरा

करौली जिले के सपोटरा क्षेत्र में बहने वाली बनास नदी से बजरी का खनन खूब हो रहा है। जिम्मेदार विभागों के अफसर इस ओर से आंखें मूंदे बैठे हैं। कभी कभी अवैध खनन को रोकने की खानापूर्ति की जाती है।
बनास नदी क्षेत्र को बजरी माफिया ने मशीनों से छलनी कर डाला है। इससे नदी का मार्ग ही बदल गया है और जलीय जीवों पर संकट की नौबत है। न्यायालय की रोक के बाद भी करौली जिले में बनास नदी से रोजाना बजरी का अवैध खनन जारी है।

करौली

Updated: May 29, 2022 11:57:43 am

बजरी खनन से बनास नदी को खतरा

करौली जिले के सपोटरा क्षेत्र में बहने वाली बनास नदी से बजरी का खनन खूब हो रहा है। जिम्मेदार विभागों के अफसर इस ओर से आंखें मूंदे बैठे हैं। कभी कभी अवैध खनन को रोकने की खानापूर्ति की जाती है।
बनास नदी क्षेत्र को बजरी माफिया ने मशीनों से छलनी कर डाला है। इससे नदी का मार्ग ही बदल गया है और जलीय जीवों पर संकट की नौबत है। न्यायालय की रोक के बाद भी करौली जिले में बनास नदी से रोजाना बजरी का अवैध खनन जारी है। बनास नदी से सैंकड़ों ट्राली बजरी का रोजाना खनन हो रहा है। अवैध खनन से नदी का अस्तित्व मिट रहा है वहीं जलीय जीवों पर भी खतरा मंडरा रहा है। आसपास के इलाकों में पानी की कमी हो रही है। जलस्रोत सूख चुके हैं। कुओं में पानी नहीं है। एक ओर सरकार की ओर से देशभर में जल संरक्षण अभियान के तहत अनेक प्रयास किए जा रहे हैं। बरसात के पानी को रोकने के लिए तलाई खुदाई जा रही है, तो कही बांध बनाएं जा रहे हैं। अवैध खनन के लिए जेसीबी मशीनों का उपयोग किया जा रहा है। जिससे नदी का सीना छलनी हो गया है। इसी तरह खनन होता रहा तो आने वाले समय में आसपास के इलाकों में पेयजल संकट और गहरा जाएगा। क्योंकि क्षेत्र में बनास नदी ही सबसे बड़ी नदी है।
बजरी खनन से बनास नदी को खतरा
बजरी खनन से बनास नदी को खतरा,बजरी खनन से बनास नदी को खतरा,बजरी खनन से बनास नदी को खतरा

चौकियों का भी नहीं खौफ

बजरी का अवैध परिवहन रोकने के लिए कई जगह प्रशासन ने चौकी लगाई हुई है। जिन पर पुलिसकर्मी तैनात रहते हैं, लेकिन बजरी का अवैध परिवहन करने वालों में कोई खौफ नहीं है। इनमें आरएसी की चौकी कुशालसिंह्सिंह चौरारा, गजराजपाल बड़ौदा , बनास नदी घाटा पुल पर, पवारपुरा, डांडा और सपोटरा थाने की हाड़ौती चौकी, नारौली डांग चौकी लगा रखी है। लेकिन फिर भी बजरी की ट्रॉलियां बेधड़क निकलती है। ग्रामीणों का कहना है कि कार्रवाई के नाम पर केवल औपचारिकता होती है।

यहां हो रहा अवैध खनन

बनास नदी क्षेत्र के पुराघांट बड़पीपड़,श्यामोली घांट, बिलोली व आसपास के इलाकों से रोजाना खनन किया जा रहा है। ट्रॉली चालक श्यामोली से बजरी भरकर डांगड़ा, एकट, माधोराजपुरा मार्ग से निकल रहे हैं। दूसरा रास्ता शांकड़ा, एकट की झोंपड़ी के रास्ते से माधोराजपुरा मार्ग पर नहर पर होकर जीरोता मार्ग से जाता है। इसी प्रकार तीसरा रास्ता सांकड़ा से मोरेल नदी में होकर गजराजपाल बड़ौदा गांव के रास्ते से गोरधनपुरा होते हुए बजरी ले जाई जाती है। जीरोता- रानेटा मार्ग से रोजाना रानेटा मशावता होते हुए बजरी आसपास के शहरों में जाती है। जहां महंगे दामों पर बिकती है। इसी प्रकार बड़पीपड़, परीत घाट से बजरी भरकर महारो, करारकी, सिमीर, गोरेहार के रास्ते से कांवटी होते गुजर रहे हैं। वही भागीरथपुरा के रास्ते से अडूदा मार्ग पर होकर भी आए दिन बजरी की ट्रॉलियां निकलती है। ग्रामीणों का आरोप है कि प्रशासन की ओर से कार्रवाई नहीं की जाती।
नाके लगा रखे हैं
एसडीओ अनुज भारद्वाज ने बताया कि हमने अवैध बजरी खनन व परिवहन रोकने के लिए पुलिस को विशेष आदेश दिए हैं। जगह नाके भी लगा रखे हैं।

कार्रवाई की है
थानाधिकारी उदयभानसिंह ने बताया कि इस मामले में उच्चाधिकारियों से बात करें। अवैध बजरी खनन रोकने के लिए पुलिस समय समय पर कार्रवाई करती रहती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

Delhi Shopping Festival: सीएम अरविंद केजरीवाल का बड़ा ऐलान, रोजगार और व्यापार को लेकर अगले साल होगा महोत्सवMaharashtr: नासिक में 'सूफी बाबा' ख्वाजा सैय्यद चिश्ती की हत्या, सिर में मारी गई गोली, अफगानिस्तान से था नाताKaali Poster Controversy: कानाडा के म्यूजियम ने हिंदू आस्था को ठेस पहुंचाने पर मांगी माफी, नहीं दिखाई जाएगी फिल्म2024 के आम चुनाव से पहले आधार कार्ड से लिंक होगी मतदाता सूची, फार्म- 6बी भरकर करना होगा जमाDomestic cylinder price: घरेलू गैस सिलेंडर महंगा, कमर्शियल सिलेंडर के दाम घटेहिमाचल के कुल्लू में फटा बादल, 4 लोग लापता, किन्नौर में भूस्खलन से NH-5 बंदपर्दे के पीछे के हीरो: ये हैं रियाज और गौस को पकड़ाने में अहम भूमिका निभाने वाले युवा, बाइक से 20 से 25 KM तक किया था पीछाMp local body elecation: इंदौर में तोडफ़ोड़, भाजपा नेता ने वायरल कर दी ईवीएम की फोटो
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.