एसडीओ को सर्द रात में ठिठुरते मिले यात्री

हिण्डौनसिटी . रेलवे स्टेशन पर गुरुवार रात करीब साढ़े १० बजे पहुंचे एसडीओ शेरसिंह लुहाडिय़ा ने प्लेटफार्म पर सर्द रात में यात्रियों को खुले में ठिठुरते

By: vinod sharma

Published: 09 Dec 2017, 12:35 PM IST

हिण्डौनसिटी . रेलवे स्टेशन पर गुरुवार रात करीब साढ़े १० बजे पहुंचे एसडीओ शेरसिंह लुहाडिय़ा ने प्लेटफार्म पर सर्द रात में यात्रियों को खुले में ठिठुरते देखा तो चकित रह गए। उन्होंने मोबाइल पर ही नगर परिषद आयुक्त से सवाल किया कि अभी तक रेलवे स्टेशन पर रैन बसेरा क्यों नहीं बनाया गया है।
रैन बसेरा नहीं होने से निर्धन यात्रियों को प्लेटफार्म पर ही सर्द रातें बितानी पड़ रही हैं। नगर परिषद की ओर से हर वर्ष सर्दी शुरू होते ही रेलवे स्टेशन पर अस्थायी रैन बसेरे की व्यवस्था की जाती है, लेकिन इस बार सर्द रातें शुरू होने के बाद भी रेलवे स्टेशन पर रैन बसेरा नहीं बनाया गया। एसडीओ लुहाडिय़ा रेलवे स्टेशन पहुंचे तो उन्हें प्लेटफार्म पर कई यात्री खुले में सोते हुए मिले। प्लेटफार्म परिसर एवं बाहर यात्रियों को ठिठुरते देख एसडीओ ने इस संबंध में स्टेशन मास्टर से बात की तो बताया गया कि हर वर्ष नगर परिषद की ओर से रेलवे स्टेशन पर अस्थायी रैन बसेरे की व्यवस्था की जाती है, लेकिन इस बार यह व्यवस्था नहीं की है। एसडीओ ने मोबाइल पर नगरपरिषद आयुक्त दीपक चौहान से बात की तो बताया गया कि अस्थायी रैन बसेरा के संबंध में रेलवे के डीआरएम से स्वीकृति मांगी है। रेलवे की ओर से स्वीकृति आते ही रैन बसेरा स्थापित करा दिया जाएगा। एसडीओ ने इस संबंध में स्टेशन मास्टर को भी उच्चाधिकारियों का ध्यान आकर्षित करने के लिए कहा और आयुक्त को भी स्वीकृति मिलते ही रैन बसेरा स्थापित करने के निर्देश दिए।


देखी चिकित्साकर्मियों की उपस्थिति
हिण्डौनसिटी. एसडीओ शेरसिंह लुहाडिय़ा ने रात 11 बजे राजकीय अस्पताल का निरीक्षण किया। इस दौरान डॉक्टर व चिकित्साकर्मियों की उपस्थिति देखी। उन्होंने अस्पताल के इंनडोर वार्डों का भी निरीक्षण किया तथा भर्ती मरीजों से बातचीत कर रात्रिकालीन व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। एसडीओ ने राजकीय अस्पताल के बाहर नगर परिषद की ओर से संचालित आश्रय स्थल का भी निरीक्षण किया। लुहाडिय़ा ने अस्पताल के उपस्थिति रजिस्टर के अनुसार डॉक्टर व चिकित्साकर्मियों की उपस्थिति को जांचा। इसके अलावा मेडीकल वार्ड, सर्जिकल वार्ड, शिशु वार्ड व लेबर रूम का निरीक्षण कर मरीजों से रात्रिकालीन व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। अस्पताल के नि:शुल्क दवा काउंटरों के साथ ओपीडी में पर्ची खिड़की को भी देखा। अस्पताल में उपस्थित मिले डॉ. रामराज मीना व कंपाउंडर ओमीलाल गौड़ से भी व्यवस्थाओं की जानकारी ली।

vinod sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned