टूटी सड़क और पाइपलाइन न बनने पर लोगों का यहां से निकलना हुआ दुश्वार, सरकारी महकमा है लापरवाही पर सवार

सीवरेज के लिए खुदाई से राह चलना हुआ दुश्वार तो कलक्टर, जलदाय एईएन एवं नप आयुक्त को कानूनी नोटिस....

By: Vijay ram

Published: 25 Apr 2018, 12:00 PM IST

करौली.

हिण्डौनसिटी शहर की किशन नगर बस्ती के ई-ब्लॉक में सीवरेज लाइन के लिए खोदी गई सड़क से राह चलना दुश्वार हो गया है।

 

खुदाई के दौरान जलदाय विभाग की पेयजल लाइन टूट जाने से पेयजल आपूर्ति बाधित हो गई है और टूटी पाइप लाइन का पानी सड़क पर जमा हो जाने से आम रास्ते पर दलदल की स्थिति बन गई है।

 

इस मामले में एडवोकेट महेश गोयल ने कलक्टर, जलदाय विभाग के एईएन एवं नगर परिषद के आयुक्त को कानूनी नोटिस जारी किए हैं।

एडवोकेट गोयल ने बताया कि किशन नगर के ई ब्लॉक में भूमिया मंदिर के पास वीरेन्द्र जैन के मकान से सतीश फौजी के मकान तक सीवरेज लाइन डालने के लिए एलएण्डटी कंपनी द्वारा सड़क की खुदाई की थी। इससे सड़क बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई और जलदाय विभाग की पाइप लाइन टूट गई।

क्षतिग्रस्त सड़क और पाइप लाइन की मरम्मत नहीं करने से राह निकलना दुश्वार हो गया है। दलदल युक्त सड़क पर आए समय राहगीर और दुपहिया वाहन चालक गिरकर चोटिल हो रहे हैं।

क्षतिग्रस्त पाइप लाइन की मरम्मत के लिए जलदाय विभाग के अभियंताओं से लोगों ने मांग की, लेकिन कोई ध्यान नही दिया जा रहा है। नोटिस में कहा है कि कॉलोनियों की सड़क व नाली की मरम्मत करने का जिम्मा नगर परिषद का है और सड़क खुदाई के लिए नगर परिषद ने ही एलएण्डटी कंपनी को स्वीकृति प्रदान की है। नगर परिषद क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत में अनदेखी बरत रही है, जिससे आमजन को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

 

नोटिस में कहा है कि उक्त समस्या का अविलंब समाधान कराया जाए, जिससे आमजन को हो रही परेशानी से निजात मिल सके। इस संबंध में एलएंडटी कंपनी के जनसंपर्क विभाग के प्रतिनिधि विकेश कुमार का कहना रहा कि कंपनी के हेल्पलाइन नंबर पर जो भी शिकायतें दर्ज कराई जा रही हैं, उनका समय पर समाधान कराया जा रहा है।

निसूरा. मूंडिया गांव की छावड़ी पट्टी में जल संकट को लेकर सोमवार को ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। युवा, पुरुष व महिलाएं पेयजल टंकी पर चढ़ गए तथा खाली बर्तन लेकर नारे लगा प्रदर्शन किया। बाद में जलदाय विभाग के सहायक अभियंता के दूरभाष पर मिले आश्वासन पर मामला शांत हुआ।

ग्रामीणों ने बताया कि मूंडिया गांव की तीनों पट्टियों में अलग-अलग तीन उच्च जलाशय बने हुए हैं। इन जलाशयों से छावड़ी पट्टी, खेड़ा पट्टी व बैंसला पट्टी में जलापूर्ति होती है। छावड़ी पट्टी के इस जलाशय में गम्भीर नदी में लगे चार नलकूपों से पानी आता है। ग्रामीण समय सिंह, सिया, गुमान, पिन्टू, जीतू, मुखराम आदि ने बताया कि १५ दिन से नलों में पानी नहीं आ रहा है।

 

गर्मी में लोगों को पेयजल के लिए भटकना पड़ रहा है। महिलाएं काफी दूर निजी नलकूपों से पानी ला रही है। जलदाय विभाग के कार्मिक नरेश ने बताया कि गांव के पिछले कई दिनों से मात्र चार से पांच घण्टे ही थ्री फेज सप्लाई मिल रही है। इससे टंकी में पर्याप्त नहीं आ रहा है। इस कारण कई मौहल्लों में पानी कम आपूर्ति हो रही है।

Vijay ram
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned