रंग लाई मेहनत, सुधरी पाल निखरे घाट

-विधायक ने जलसेन में किया श्रमदान

-अमृतं जलम अभियान

By: Anil dattatrey

Published: 16 May 2018, 03:25 PM IST

हिण्डौनसिटी. राजस्थान पत्रिका के अमृतं जलम् अभियान के तहत जलसेन के अस्तित्व को बचाने की खातिर शुरू हुआ श्रमदान का सिलसिला मंगलवार को भी जारी रहा। तीसरे दिन भी श्रमवीरों ने जलसेन में खूब पसीना बहाया। लगातार सफाई-खुदाई से जलसेन की सूरत निखर आई है।

जलसेन के घाट हों या पेटा, चहुंओर सफाई नजर आने लगी है। वर्षों से मिट्टी, खरपतवार से अटी घाटों की सीढिय़ां के निखरे स्वरूप को देख जहां शहरवासी खुश हैं, वहीं श्रमवीर भी रंग ला रही मेहनत को लेकर प्रफुल्लित नजर आए। अब उनका कहना है कि जलसेन एक बार फिर हिलोरें मारकर जीवंत हो उठे। इसके लिए श्रमदान का सिलसिला जारी रख अभियान को आगे बढ़ाते हुए अब पानी आवक के रास्तों से अवरोध हटाने का कार्य किया जाएगा।

जल संरक्षण के अभियान में सुबह 6 बजे से पहले ही लोगों का जलसेन पहुंचना शुरू हो गया। धीरे-धीरे जलसेन के पेटे सैकड़ों लोग पहुंच गए। इसी बीच विधायक राजकुमारी जाटव भी जलसेन पहुंची और श्रमदान में हाथ बंटाकर जनता को जल संरक्षण के लिए आगे आने बात कही।

संरक्षित जल सुरक्षित कल की तमन्ना से श्रमदान करते लोगों को देख विधायक ने भरोसा दिलाया कि शहर की जीवन रेखा माने जाने वाले जलसेन को फिर से जीवंत किया जाएगा। इसके लिए मुख्यमंत्री को यहां का दौरा कराने का प्रयास करेंगी, ताकि जलसेन एक बार फिर अपने पुराने स्वरूप में लौट सके।

साथ ही विधायक ने जलसेन को पर्यटक स्थल के रूप में विकसित करने की वृहद प्रोजेक्ट रिपोर्ट को भी स्थानीय निकाय व राज्य सरकार स्तर पर प्रयास कर मूर्त रूप दिलाने का आश्वासन दिया। पार्षद बलवंत बेनीवाल, स्काउट संघ के प्रमुख ओपी मंगल , सचिव मुकेश लहकोडिया, सुनील सिंघल, भाजपा जिला उपाध्यक्ष अनिल गोयल, रेडीमेड वस्त्र व्यापार संघ के राकेश गुम्बर आदि ने नियमित श्रमदान में भाग लिया।

बांटा काम, किया श्रमदान
निजी शिक्षण संस्था संघ ने एक दिन पहले तय की गई कार्य योजना के अनुसार काम बांट कर श्रमदान किया। धीरेंद्र चौधरी, आकर्षण उपाध्याय, बृजकिशोर शर्मा, चंद्रकांत वशिष्ठ, पुरुषोत्तम शर्मा के अलावा केशव विद्या मंदिर के रामसिंह भारद्वाज, संंतोष गोयल, विष्णु दत्त शर्मा, आशीष शर्मा, कुश कुमार, सोनवीर, मुनेश, शिवसिंह, गजानंद तथा अलीजा पब्लिक स्कूल के अब्दुल मुगनी के नेतृत्व अधा दर्जन से अधिक शिक्षकों ने घाटों की सफाई की।

मिट्टी के टीले से निकाला घाट
जलसेन में श्रमदान कर रहे लोगों ने मंगलवार को टीले में दबने से गुम हुए घाट को मिट्टी हटा कर निकाला। संत हरदेव निरंकारी मिशन की महिला-पुरुष संगत ने राजू लाल डाबर के नेतृत्व में श्रमदान किया। टीले के नीचे दबे एक दर्जन सीढिय़ों के घाट से मिट्टी को खोद कर हटाया। साथ ही झाडू लगा घाट की सीढिय़ों पर बैठ निरंकारी मिशन की प्रार्थना की।

जलसेन विकास को लेकर बैठक आज
जलसेन को जीवंत करने के लिए बुधवार सुबह 7 बजे छत्तूघाट पर मॉनीटरिंग कमेटी की बैठक होगी। कमेटी के सदस्यों के अनुसार बैठक में बारिश जल की पहुंच सुगम कर जलसेन को जीवंत करने की आगामी कार्ययोजना पर चर्चा की जाएगी।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned