उच्च शिक्षित युवक भी सफाईकर्मी की दौड़ में

नगर परिषद में 25 सफाई कर्मचारियों की भर्ती के लिए 750 आवेदन जारी

By: Dinesh sharma

Published: 16 May 2018, 03:36 PM IST

हिण्डौनसिटी. नगर परिषद में निकली 25 सफाई कर्मचारियों की भर्ती के लिए उच्च शिक्षित युवक भी कतार में हैं। भर्ती के लिए कोई शैक्षणिक योग्यता अनिवार्य नहीं है, लेकिन नौकरी के लिए एमए, बीएड एवं अन्य डिग्रीधारी युवकों ने भी आवेदन किए हैं। राज्य सरकार के निर्देशानुसार नगर परिषद में 16 अप्रेल से सफाई कर्मचारियों के 25 पदों के लिए आवेदन लिए जा रहे हैं।

आवेदन प्रस्तुत करने की अंतिम तारीख 15 मई है। नगर परिषद में आवेदन निशुल्क उपलब्ध कराए जा रहे हैं। सोमवार शाम तक करीब 750 आवेदन इच्छुक अभ्यर्थियों द्वारा लिए गए हैं। जबकि नगर परिषद को सोमवार शाम तक प्राप्त हुए 270 से ज्यादा आवेदनों में 100 से ज्यादा आवेदन उच्च शिक्षित युवकों के हैं, जिनमें एमए, बीएड और अन्य डिग्रीधारी बेरोजगार युवक शामिल हैं। सफाई कर्मचारी की नौकरी के लिए इस बार बाल्मिकी समाज के युवकों के अलावा अन्य वर्गो के युवक-युवतियों ने भी रूचि जाहिर की है।

पार्षद की पत्नी ने भी किया आवेदन
नगर परिषद के एक पार्षद की पत्नी ने भी सफाई कर्मचारी पद के लिए आवेदन किया है। इसके साथ कई पार्षद ऐसे हैं, जिनके नजदीकी परिजन अथवा रिश्तेदारों ने सफाई कर्मचारी की नौकरी करने में रूचि दिखाते हुए आवेदन किया है। शहरी क्षेत्र के साथ ग्र्रामीण क्षेत्र के एसटी, ओबीसी व सामान्य वर्ग के युवक-युवतियों ने भी सफाई कार्य का अनुभव प्रमाण पत्र संलग्न करते हुए आवेदन प्रस्तुत किए हैं।

आवेदन के साथ ये दस्तावेज जरूरी
सफाई कर्मचारी पद के लिए आवेदन में एससी, एसटी के लिए 50 रुपए और ओबीसी व सामान्य वर्ग के लिए 100 रुपए का पोस्टलआर्डर, जाति प्रमाण पत्र, मूलनिवास प्रमाण पत्र, शपथ पत्र, एक वर्ष तक सफाई कार्य करने का अनुभव प्रमाण पत्र, विवाह पंजीयन, राजपत्रित अधिकारी से प्रमाणित चरित्र प्रमाण पत्र आदि दस्तावेज संलग्न करना आवश्यक है।

अनुभव प्रमाण पत्रों पर संशय
सफाई कर्मचारी पद के लिए आवेदन के साथ लगाए गए अनेक अनुभव प्रमाण पत्रों को लेकर संशय जाहिर किया जा रहा है। अभ्यर्थियों द्वारा अनुभव प्रमाण पत्र सफाई कार्य कराने वाले मान्यता प्राप्त ठेकेदार अथवा प्लेसमेंट एजेंसी से बनवाए जा रहे हैं। इस संबंध में नगर परिषद अधिकारियों का कहना है कि चयन होने पर अनुभव प्रमाण पत्र जारी करने वाले ठेकेदार अथवा प्लेसमेंट एजेंसी के रिकॉर्ड की जांच की जाएगी। उसके बाद ही अभ्यर्थी को नियमानुसार नियुक्ति दी जाएगी।

बाल्मिकी समाज से ही लिए जाएं आवेदन
सफाई कर्मचारी संघ के पूर्व अध्यक्ष हरेश वाल्मिकी का कहना रहा कि सरकार को सफाई कर्मचारी भर्ती के आवेदन वाल्मिकी समाज के बेरोजगार युवकों से ही लेने चाहिए। वाल्मिकी समाज के युवकों को सफाई कार्य के अलावा अन्य कोई दूसर? रोजगार ?? नहीं मिल पाता है। सरकार को इस ओर ध्यान देना चाहिए।

Dinesh sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned