आशंका में बीता दिन, शाम को मिली राहत

दोपहर में बयाना मार्ग की बंद की रोडवेज

By: Anil dattatrey

Published: 16 May 2018, 03:56 PM IST

हिण्डौनसिटी. पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर मंगलवार को शहर में दिनभर गुर्जर आंदोलन के ऐलान की आशंका बनी रही। रोडवेज आगार प्रशासन ने अड्ड़ा गांव में महापंचायत के लिए भीड़ जुटने के साथ ही बयाना मार्ग पर बसों का संचालन बंद कर दिया।

वहीं आशंकाओं के चलते बस स्टैण्ड पर दोपहर बाद यात्रियों की संख्या बहुत कम नजर आई। यात्रियों के टोटे से बसें स्टैंड पर खड़ी रही। हालांकि अन्य मार्र्गों पर रोडवेज का संचालन सामान्य रहा। शाम को आंदोलन के 23 मई तक टलने की खबर से लोगों ने राहत की सांस ली।

हिण्डौन आगार के मुख्य प्रबंधक बहादुर सिंह गुर्जर ने बताया कि बयाना-हिण्डौनसिटी मार्ग पर रोडवेज की एक शटल बस का संचालन होता है। अड्डा में लोगों की भीड़ जुटने पर दोपहर एक करीब एक बजे बस का संचालन बंद कर दिया। बाकी सभी स्थानों पर बसों का आवागमन सुचारू रहा।

वहीं भरतपुर आगार से वाया बयाना हिण्डौन, कैलादेवी की बसों का संचालन नहीं किया। इन बसों को भरतपुर बयाना के बीच चलाया गया। हिण्डौन से करौली, जयपुर , अलवर, दिल्ली, भरतपुर वाया महवा आदि स्थानों पर बसों का आवागमन सुचारू रहा। महापंचायत के बाद शाम को बयाना मार्ग पर रोडवेज बसें सुचारू हो गई।

जीआरपी व आरपीएफ ने किया मार्च
गुर्जर महापंचायत के मद्देनजर रेलवे स्टेशन पर मंगलवार को व्यवस्थाएं चाक चौबद रही। आरपीएफ व जीआरपी के अधिकारियों ने हिण्डौन रेलवे स्टेशन को बेस कैम्प बनाकर श्रीमहावीरजी से फतेहसिंहपुरा रेलवे स्टेशन पर जवानों की तैनाती कर निगरानी रखी।
सुबह जीआरपी कोटा के वृत्ताधिकारी रोहताश शर्मा के नेतृत्व में तीन उपनिरीक्षकों के की अगुवाई में 60 जवानों ने प्लेटफार्म पर मार्च किया।

साथ ही ट्रेनों की आवाजाही के दौरान यात्रियों के भीड़ पर निगरानी रखी। इसी प्रकार पटना से आई आरपीएसएफ की एक कम्पनी के जवानों के अलावा आरपीएफ के निरीक्षक व उपनिरीक्षकों प्लेटाफार्म, सहित रेलवे क्षेत्र के चप्पे चप्पे पर तैनात हो निगरानी रखी। वहीं जिला प्रशासन द्वारा आरएसी के 14वीं बटालियन की एक कम्पनी के जवानों की रिजर्व तैनाती की गई।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned