पांच करोड़ रुपए लेकर फरार व्यापारी के मामले में गृहमंत्री से मिलेंगे पीडि़त व्यापारी

पुलिस कार्यप्रणाली पर व्यापारियों ने जताई नाराजगी

By: Anil dattatrey

Published: 16 May 2018, 04:18 PM IST

हिण्डौनसिटी. मंडी यार्ड के 52 व्यापारियों के पांच करोड़ रुपए लेकर फरार हुए व्यापारी के खिलाफ थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद भी पुलिस फरार व्यापारी को गिरफ्तार नहीं कर पा रही है। इससे पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर व्यापारियों में नाराजगी व्याप्त है। रविवार को पुराने मंडी यार्ड के शिवालय मंदिर में हुई बैठक में व्यापारियों ने पुलिस की कार्यप्रणाली के विरोध में गृहमंत्री से मिलने का निर्णय किया है।

व्यापार मंडल के अध्यक्ष विशंभर गर्ग की अध्यक्षता में हुई बैठक में व्यापारियों ने कहा कि मंडी यार्ड का व्यापारी मेघराज महाजन 52 व्यापारियों के पांच करोड़ रुपए का कर्जा एवं माल लेकर फरार हो गया है। इससे मंडी यार्ड का समूचा व्यापार चरमरा गया है। मंडी यार्ड के आधे से ज्यादा व्यापारियों के आर्थिक रूप से प्रभावित होने से दो मई से मंडी यार्ड में कारोबार बंद है।

व्यापारियों ने कहा कि उन्हें पुलिस का सकारात्मक सहयोग नहीं मिल रहा है। पूर्व में व्यापारियों की ओर से रिपोर्ट दर्ज करने में देरी की गई और अब नामजद रिपोर्ट के बाद भी पुलिस फरार व्यापारी को गिरफ्तार नहीं कर रही है, जबकि मध्यस्थों के माध्यम से फरार व्यापारी परिजन एवं रिश्तेदारों से संपर्क बनाए हुए है। बैठक मे घासीलाल कंबलवाल, कैलाश टोडूपुरा, पार्षद महेश टोडूपुरा, महेश ढिंढोरा, लालाराम अग्रवाल, मनोज कुमार, नत्थीलाल जैन, प्रेमचंद, रामगोपाल, राजू गोयल सूरौठ आदि ने विचार व्यक्त किए।

बंद रखेंगे मंडी
व्यापारियों ने कहा कि जब तक पांच करोड़ लेकर फरार हुए व्यापारी को पुलिस गिरफ्तार नहीं करेगी, तब तक मंडी यार्ड में कारोबार बंद रखा जाएगा। व्यापारियों ने तय किया है कि वे शीघ्र ही जयपुर में गृहमंत्री से मिलकर पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर शिकायत करेंगे और फरार व्यापारी को अविलंब गिरफ्तार किए जाने की मांग करेंगे। व्यापारियों ने यह भी कहा कि अन्य स्थानों की मंडिया बंद रखने के लिए भी संबंधित व्यापार मंडलों से संपर्क किया जाएगा। व्यापारी अपनी मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन के लिए भी मजबूर हो सकते हैं।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned