scriptHindaun residents hope for CM's Karauli visit: Dreams of development a | सीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपने | Patrika News

सीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपने

Hindaun residents hope for CM's Karauli visit: Dreams of development are unfulfilled for years

नजरें इनायत हों तो विकास को मिले बढ़ावा

करौली

Published: November 18, 2021 11:12:09 am

हिण्डौनसिटी.
प्रशासन गांवों के संग अभियान के शिविरों की जमीनी हकीकत जानने के लिए गुरुवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत करौली के गांव कोंडर आ रहे हैं। राज्य सरकार के तीन बजटों में हिण्डौन विधानसभा क्षेत्र को खूब सौगात मिली हैं। अब मुख्यमंत्री के करौली दौरे से हिण्डौन क्षेत्र के लोगों को भी उम्मीद लगी है। गर नजरें इनायत हों तो क्षेत्र के विकास को और बढ़ावा मिल जाए।
सीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपने,सीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपने,सीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपने,सीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपने,सीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपने
हिण्डौनसिटी. एएसपी कार्यालय के लिए आरक्षित भूमि। ,हिण्डौनसिटी. जलसेन तालाब। ,हिण्डौनसिटी. जगर बांध । ,हिण्डौनसिटी. राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय। ,हिण्डौनसिटी. बायपास रोड स्थित निर्माणाधीन रेलवे ओवर ब्रिज।

एएसपी कार्यालय की दरकार-
करौली जिले के सबसे बड़े शहर हिण्डौन में अपराधों का ग्राफ भी काफी ऊपर रहता है। वर्ष भर में जिले की आपराधिक घटनाओं और थानों में दर्ज मामलों में में सर्वाधिक हिण्डौन क्षेत्र के होते हैं। बढ़ते अपराधों की वजह से सरकार ने शहर में दो थाने हैं। हिण्डौन सहित टोडाभीम-नादौती क्षेत्र में शांति एवं कानून व्यवस्था की मॉनीटिरिंग के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक(एएसपी) कार्यालय दरकार है। भविष्य की जरुरत को देखते हुए पुुलिस ने कैलाश नगर में इसके लिए भूमि आरक्षित भी कही हुई है। लेकिन शहर के लोगों को वर्षों से सराकर से इसकी घोषणा का इंजजार है।

जल्द हो बायपास पर रेलवे ओवर ब्रिज का निर्माण
हिण्डौनसिटी में महवा-करौली मेगा हाइवे बायपास रोड पर निर्माणधीन रेलवे ओवर ब्रिज का कार्य करीब ढाई दशक में भी पूरा नहीं हुआ है। कइयों ने निर्माण संवेदक बदलने से निर्माण कार्य अधूरा ही है। अब रेलवे ट्रेक के ऊपर गर्डर डालने के तैयारी पर पहुंचने पर भी ब्रिज के कार्य को गति नहीं मिल पा रही है। ओवर ब्रिज का निर्माण पूरा नहीं होने से महवा और करौली की ओर से आने वाला भारी यातायात शहर के बीच से निकलता है। आए दिन दुर्घटनाएं भी होती हैं।
जगर बांध में आए चम्बल का पानी

हिण्डौनसिटी. सामान्य से कम बारिश होने क्षेत्र का प्रमुख जलस्त्रोत जगर बांध के अधभर रहा गया। वहीं वर्ष दर वर्ष गिरने भूजल स्तर से अब क्षेत्र के सिंचाई और पेयजल संकट के स्थाई समाधान के लिए चम्बल के पानी से ही आस है। लोगों का कहना है कि वर्षों से लंबित चल रही चम्बल पांचना-जगर बांध लिफ्ट परियोजना को वित्तीय स्वीकृति मिले तो पांचना साथ जगर बांध भी लबालब रह सकेगा। साथ ही डेढ़ दशक से सूखी पड़ी जगर की नहरें भी जीवंत हो सकेंंगी।
पर्यटक स्थल के रूप में संवरे जलसेन-
हिण्डौनसिटी. शहर की प्रमुख जल स्त्रोत रहा जलसेन तालाब डेढ़ दशक से सूखा पड़ा है। अनदेखी से इसके अस्तित्व पर संकट में है। शहरवासियों को उम्मीद है कि जलसेन तालाब नौकायन व नगरीय पर्यटक स्थल के रूप में विकसित हो, ताकि शहर की धरोहर को संरक्षण मिल सके।

राजकीय कॉलेज में खुलें भूगोल और अग्रेजी विषय-
हिण्डौनसिटी. करीब साढ़े चार दशक पुराने राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में स्नातक स्तर पर भूगोल और अंग्रेजी साहित्य विषय संचालित नहीं है। इन विषयों से बीए की पढ़ाई के लिए विद्यार्थियों को दूसरे शहरों के कॉलेजों में जाना पड़ता है। वहीं महाविद्यालय में कला वर्ग में राजनीति विज्ञान से एमए व विज्ञान वर्ग के छात्रों को रसायन विज्ञान में एमएससी की जरुरत है।


स्टेडियम बने तो निखरें खेल प्रतिभाएं
हिण्डौनसिटी.क्षेत्र में खेलों के प्रति युवाओं में काफी रुझान है। राज्य और राष्ट्र स्तर की कई खेल प्रतिभाएं भी है, लेकिन खेल कौशल को निखारने के लिए स्टेडियम नहीं है। विभिन्न खेल संगठनों द्वारा सीमित सुविधा-संसाधनों में प्रतियोगिताओं को आयोजन किया जाता है। स्कूली क्रीडा प्रतियोगिता के लिए भी शहर में समुचित मैदान नहीं हैं। स्टेडियम के अभाव में खिलाड़ी स्कूली मैदानों में ही राज्य और राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिताओं में प्रदर्शन के लिए अभ्यास करते हैं। करीब एक दशक पुरानी खेल स्टेडियम की मांग को लेकर खेल प्रेमी जिले में मुख्यमंत्री के दौर से आशांवित हैं।
सीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपनेसीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपनेसीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपनेसीएम के करौली दौरे से हिण्डौनवासियों को उम्मीद: वर्षों से अधूरे हैं विकास के सपने

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Coronavirus: स्वास्थ्य मंत्रालय इन 6 राज्यों में कोविड स्थिति पर चिंतित, यहां तेजी से फैल रहा संक्रमणGhana: विनाशकारी विस्फोट में 17 लोगों की मौत, 59 घायलभारत ने जानवरों के लिए विकसित किया पहला कोरोना वैक्सीन,अब शेर और तेंदुए पर ट्रायल की योजना50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीअखिलेश यादव के कई राज सिद्धार्थनाथ सिंह ने खोले, सुन कर चौंक जाएंगेCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतयूपी विधानसभा चुनाव 2022 के दूसरे चरण की 55 विधानसभा सीटों के लिए आज से होगा नामांकनWeather Forecast News Today Live Updates: दिल्ली सहित कई राज्यों में 3 दिन बारिश का अलर्ट, उत्तर भारत में पड़ेगी कड़ाके की ठंड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.