गूंजा ओम-नमोकार मंत्र, बाबा रामदेव ने कराए योग

Vinod Sharma

Updated: 20 Apr 2018, 06:11:12 PM (IST)

Karauli, Rajasthan, India
1/2


करौली.करौली के इतिहास में पहली बार सुबह पांच बजे जब हजारों की संख्या में लोगों ने पंतजलि गोविन्द धाम पर बाबा रामदेव के साथ योग के आसन किए तो आंसमान ओम नमोकार मंत्र के जापों से गूंज उठा। इस दौरान भारत माता और वंदेमातरम के नारे भी गूंजे। सुबह ४.५० बजे जैसे ही योग कराने के लिए मंच पर पहुंचे, लोगों ने तालियों की गडग़ड़ाहट से उनका स्वागत किया। बाद में बाबा ने योग करना शुरू किया। उन्होंने योग कराते समय उसके महत्व तथा योग क्यों करना चाहिए की जानकारी दी। योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि योग करने से मनुष्य के मन में अच्छे विचार आते हैं। इसलिए हर मनुष्य को प्रतिदिन योग करना चाहिए। उन्होंने बताया कि योग से घातक बीमारियों पर काबू पाया जा सकता है। वर्तमान समय की जीवन शैली के कारण लोगों को बीमारियों ने घेर लिया है। इसलिए बीमारियों से बचने का एक मात्र उपाय योगासन है। बाबा रामदेव ने हजारों लोगों को शीर्षासन, पदासन, नौकासन, पवन मुक्त आसन, दंड आसन, प्राणायाम, मंडूक आसन, शशक आसन, योग मुद्रा आसन, गोमुख आसन, कपाल भारती, चक्रदंड आदि योग की क्रियाएं कराई।
योग को घर-घर पहुंचाया
इस दौरान सांसद डॉ. मनोज राजौरिया, नगरपरिषद सभापति राजाराम गुर्जर, जिला परिषद सदस्य डॉ. सौम्या गुर्जर ने दीप प्रज्जवलन कर तीन दिवसीय योग शिविर का उद्घाटन किया। सांसद राजौरिया ने कहा कि बाबा रामदेव ने योग को ऊंचाइया दी है। उन्होंने कहा कि बाबा ने पतंजलि के माध्यम से जो संस्कार के बीज करौली में रखे हैं, उनका प्रतिफल जिले के लोगों को होगा। विकास की एक नई शुरुआत होगी। जिला परिषद सदस्य डॉ. सौम्या गुर्जर ने कहा कि बाबा रामदेव देश की जनता को जागरूक करने का अतुलनीय काम कर रहे हैं। वे देश के उत्थान में लगातार लगे रहते हैं। इस अवसर पर कार्यवाहक उपखण्ड अधिकारी हेमराज परिडवाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार यादव, अग्रवाल समाज के जिलाध्यक्ष प्रहलाद सिंघल, करौली के विशम्बर दयाल गुप्ता, सुनिल जिंदल, मधु गुप्ता, सुनिता सुर्राफ, रेणु गुप्ता, पूरन गुर्जर, जपसाल सारण, भारत स्वाभिमान ट्रस्ट के अरविन्द पाण्डे, विजय लक्ष्मी, सुभाष यादव, रेखा सोनी,कर्मपाल तथा कुलभूषण बैराठी आदि को बाबा रामदेव ने माला पहनाई।
12 आसान रोज करें
बाबा ने प्रथम दिन कपाल भारती तथा अनुलोम-विमोल के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि योग से डायबिटीज, कैंसर, मुटापा तथा अन्य बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है। प्रत्येक व्यक्ति को योग के १२ आसान रोज करने चाहिए। उन्होंने बालक-बालिकाओं को रोजाना योग कराने को कहा। योग से बालक स्वस्थ रहेंगे साथ ही बुद्धि का विकास भी होगा।
बाबा की योग क्रियाओं को देख अंचभित
बाबा ने योग की एक से बढक़र एक क्रियाएं की।इस दौरान शीर्षासन, दंड आसन, प्राणायाम, बाबा ने लोगों से कराए, लेकिन अधिकरत लोग इन क्रियाओं को नहीं कर सके। लोग आसनोंसे थक गए, लेकिन बाबा तेज गति से शीर्षासन और दंड आसान करते रहे, जिससे लोगों ने अचम्भा भी जताया। बाबा ने कहा कि योग को दिनचर्या का हिस्सा बनाएंगे तब ही बीमारियों से छुटकारा मिलेगा।
योग से कैंसर जैसे रोग से मिला छुटकारा
कार्यक्रम में बाबा ने कहा कि योग से बीमारी भाग जाती है। इसी दौरान हिण्डौन सिटी के उपखण्ड अधिकारी शेरसिंह लुहाडिया की पत्नी सौनल जैन ने खड़ी होकर कहा कि उन्हें कैंसर था, लेकिन नियमित .योग करने से कैंसर से छुटकारा मिल गया है।अब वे आमलोग की तरह जिंदगी जी रही हैं। बाबा ने उनका तालियों की गडग़ड़ाहट से स्वागत कराया। इसी प्रकार सतनाम सिंह नाम के व्यक्ति ने कहा कि योग से ३० किलो वजन घटाया है।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned