अनदेखी की धूल में सना हिण्डौन

Vinod Sharma

Publish: Apr, 17 2018 09:30:39 PM (IST)

Karauli, Rajasthan, India
1/2

 

हिण्डौनसिटी. इन दिनो शादी-ब्याह का सीजन है और शहर की अधिकांश सडक़ें उधड़ी पड़ी हैं। नगर परिषद प्रशासन व सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिकारियों को इससे कोई सरोकार ही नहीं है। ऐसी कोई भी कॉलोनी या बाजार बाकी नहीं बचा है, जहां साफ-सुथरी सडक़ नजर आती हो। पेयजल योजना की पाइप लाइन व सीवरेज निर्माण के लिए निर्माण कंपनियों ने सडक़ों को तोडक़र छोड़ दिया है। इससे आमजन परेशानी के दौर से गुजर रहा है। खरेटा रोड़ पर तो जैसे सडक़ का नामो निशान ही नहीं बचा है। प्रशासनिक अनदेखी से उड़ती धूल के कारण आसपास की कॉलोनियों में बसने वाले लोग मुसीबत झेलने को मजबूर हैं।
बयाना रोड चुंगी से खरेटा की ओर जाने वाली सडक़ पर करसौली गांव तक सडक़ के क्षतिग्रस्त होने से क्षेत्र के लोगों को आवागमन में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। दिनभर धूल के गुबार उडऩे के कारण सडक़ किनारे स्थित दुकान व मकानों में रहने वाले लोगों का जीना मुहाल है। धूल से बचने के लिए वाहन चालक व यात्रियों को मूहं ढककर निकलना पड़ता है। दुपहिया वाहन तो धूल में फंसकर रह जाते हैं। ऐसे में वाहन चालकों को खासी परेशानी झेलनी पड़ रही है। ऐसे ही कुछ हालात शहर की पॉश कॉलोनी मोहननगर, किशननगर, वर्धमाननगर, कृष्णा कॉलोनी, अमृतपुरी कॉलोनी, कटरा बाजार की हैं। जहां पर जलदाय विभाग की शहरी पुर्नगठित पेयजल योजना व सीवरेज सिस्टम के लिए भूमिगत पाइपलाइन डालने के लिए सडक़ें खोद कर पटक दी गई हैं। इससे शादी विवाहों की खरीदारी के लिए बाजार आने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। सामाजिक चेतना एवं विकास संस्थान के जिला समन्वयक शांतिलाल करसोलिया ने सार्वजनिक निर्माण विभाग व नगरीय स्वायत्त शासन विभाग के मंत्रियों को पत्र लिख कर शहर में उड़ती धूल व क्षतिग्रस्त सडक़ों से हो रही परेशानी से निजात दिलाने की मांग की है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned