बोर्ड परीक्षाओं में नकल रोकने राजस्थान का शिक्षा विभाग कितना सतर्क? इस सामने आई हकीकत कि रह जाएंगे निशब्द

परीक्षा कक्षों के पिछवाड़े में नकल के लिए लाई गई पर्चियां मिलीं। पेड़ की डाली पर भी पासबुक पाई गईं..

By: Vijay ram

Published: 13 Mar 2018, 10:36 PM IST

करौली/हिण्डौनसिटी.
माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए शिक्षा विभाग कितना सर्तक है, इसकी हकीकत एसडीओ द्वारा एक परीक्षा केन्द्र की जांच में सामने आई।

 

बोर्ड परीक्षा केन्द्र पर मिली नकल सामग्री
क्यारदाखुर्द गांव के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय स्थित परीक्षा केन्द्र पर एसडीओ शेरसिंह लुहाडिया के नेतृत्व में पहुंचे जांच दल ने नकल सामग्री के अलावा कई खामियां पाई। एसडीओ ने मौके पर मिली नकल सामग्री को जब्त कर सीज किया। खास बात यह है कि प्रशासनिक दस्ते के पहुंचने से कुछ मिनट पहले ही शिक्षा विभाग का उडऩदस्ता जांच करने के बाद केन्द्र से निकला था।

एसडीओ ने बताया कि करीब सवा दस बजे उनकी टीम जब परीक्षा केन्द्र पहुंची तो बोर्ड का गठित उडऩदस्ता जांच करके निकल रहा था। प्रशासनिक दस्ते में शामिल सदस्यों ने परीक्षा कक्षों के अलावा खेल मैदान, शौचालय व कक्षों के पीछे पहुंच जांच की। इसमें परीक्षा कक्षों के पिछवाड़े में नकल के लिए लाई गई पर्चियां मिली। एक पेड़ की डाली पर पासबुक भी पाई गई। एसडीओ ने केन्द्र प्रभारी से पूछताछ के बाद गत दिनों संपन्न हो चुके हिन्दी व अंग्रेजी विषय के प्रश्नपत्रों का नकल सामग्री से मिलान किया तो कई प्रश्न एक समान पाए गए। इसी प्रकार सोमवार को मिली पर्चियों में भी फिजिक्स विषय के कई प्रश्न थे।

वीक्षक डयूटी में भी मिली गड़बड़ी
नियमानुसार परीक्षा केन्द्र पर दो फील्ड सुपरवाइजर नियुक्त रहकर केन्द्र की निगरानी करते हैं।

लेकिन दो वीक्षकों के देरी से आने से परीक्षा संचालन के लिए फील्ड सुपरवाइजर को वीक्षक बना दिया। इसी प्रकार केन्द्र में प्रवेश से पहले सभी वीक्षकों को अपने मोबाइल जमा कराने होते हैं। केन्द्र पर १६ वीक्षक नियुक्त हैं, जबकि जमा कराए मोबाइलों की संख्या चार मिली। दल में

कानूनगो मनीष आर्य, गिरदावर मुरारीलाल जैन, सूचना सहायक यशवंतसिंह शामिल थे।

 

बोर्ड को भेजेंगे रिपोर्ट
&परीक्षा केन्द्र पर मिली नकल सामग्री व अव्यवस्थाओं को लेकर रिपोर्ट तैयार की गई है। जिसे जिला शिक्षा अधिकारी के माध्यम से माध्यमिक बोर्ड के सचिव को भेज लापरवाह कार्मिकों के विरुद्व कार्रवाई की अनुशंसा की जाएगी।
— शेरसिंह लुहाडिय़ा, एसडीओ, हिण्डौनसिटी।

 

आयकर विभाग की कार्रवाई से मचा हडकंप
हिण्डौनसिटी में आयकर विभाग के अपर आयुक्त के नेतृत्व में सोमवार देर शाम शहर में दो फर्मों पर हुई सर्वे की कार्रवाई से व्यापारियों में हड़कंप मच गया। रात तक चली कार्रवाई में दोनो फर्मों पर खरीद फरोख्त के दस्तावेजों की जांच की गई, जिसमें एक फर्म पर बिना बिल के सामान मिलने का मामला सामने आया। रात करीब आठ बजे अपर आयुक्त के नेतृत्व में स्टेशन रोड स्थित एक ऑटोमोबाइल्स की दुकान व डेम्परोड स्थित गुटखा व्यापारी की दुकान पर सर्वे की कार्रवाई की गई। कोटा से आए दल ने स्थानीय अधिकारियों को साथ ये कार्रवाई की।

 

गड़बड़ी के आरोप
करौली. एससी,एसटी निगम के तहत ऋण उपलब्ध कराने के लिए सोमवार को यहां बड़ौदा स्वरोजगार संस्थान में अभ्यर्थियों के साक्षात्कार लिए गए। इस दौरान दो अभ्यर्थियों ने अनियमितता बरतने के आरोप लगाए, जिस पर एडीएम ने जांच कराने का आश्वासन दिया। एडीएम की अध्यक्षता में साक्षत्कार समिति लोगों के साक्षत्कार ले रही थी। इस दौरन युवकों ने बताया कि दलाल सक्रिय है। उनके आवेदन जमा करने में ५०० रुपए खर्च हुए हैं तथा उनसे ऋण की एवज में रुपए मांगे जा रहे हैं।

Vijay ram
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned