तपस्वियों का किया बहुमान, गलतियों की मांगी क्षमा

Honored the ascetics, apologized for the mistakes

-पर्युषण पर्व समापन

By: Anil dattatrey

Published: 11 Sep 2021, 10:32 PM IST

हिण्डौनसिटी. श्वेताम्बर जैन समाज के पर्युषण पर्व के समापन पर शनिवार को मंडावरा रोड़ स्थित लक्ष्मी पैलेस में तपस्वियों का बहुमान किया गया। साथ ही वर्ष भर में जाने-अनजाने हुई गलतियों की जैन धर्मावलम्बियों ने एक दूसरे से क्षमा मांगी। श्री जैन श्वेताम्बर पल्लीवाल नवयुवक चैरीटेबल ट्रस्ट की ओर से आयोजित कार्यक्रम में नवकारसी का पारणा भी कराया गया।
जैन मुनि पन्यास प्रवर धैर्यसुंदर विजय महाराज की निश्रा में हुए कार्यक्रम में पर्युषण पर्व के दौरान तपस्या करने वालों की अनुमोदना की गई। जैन मुनि ने बताया कि पर्युषण में तप करने से आत्मशुद्धी होती है। उन्होंने पर्युषण में की गई विभिन्न चीजों के त्याग की भावना को निरंतर जारी रखने की बात कही। नवयुवक चैरिटेबल ट्रस्ट के वर्धमान जैन ने बताया कि इस दौरान आठ दिन का उपवास करने वाले 7, पांच दिन का व्रत करने वाले 4, तीन दिन उपवास करने वाले 35 एवं दो दिन की तपस्या करने वाले आठ तपस्वियों का ट्रस्ट की ओर से बहुमान किया गया।

इसके अलावा वर्धमान तप की ओली करने वाले 6 तपस्वी एवं पोषद करने वाले 7 तपस्वियों का भी बहुमान किया गया। इस अवसर पर श्रावक-श्राविकाओं ने वर्षभर में हुई त्रुटियों की एकदूसरे से मन, वचन काया से सविनय क्षमायाचना की। इस दौरान नईमंडी, मोहन नगर, केशवपुरा, भायलापुरा, बरगमां रोड, मण्डावरा रोड एवं वर्धमान नगर जैन संघ के श्रावक-श्राविका उपस्थित रहे।

तपस्वियों का किया बहुमान, गलतियों की मांगी क्षमातपस्वियों का किया बहुमान, गलतियों की मांगी क्षमातपस्वियों का किया बहुमान, गलतियों की मांगी क्षमा
Anil dattatrey
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned