राजस्थान के इस उपखण्ड में यह अफसर बोला, सुस्ती छोड़ो अब काम शुरू करो

In this subdivision of Rajasthan, this officer said, leave the slack, start work now

लंबित प्रकरणों का त्वरित हो निस्तारण, प्राथमिकता से हो परिवादियों की समस्याओं का समाधान
-एसडीएम अनूप सिंह ने ली अधिकारियों की बैठक, दिए निर्देश

By: Anil dattatrey

Published: 19 Jun 2021, 10:53 AM IST

हिण्डौनसिटी. उपखंड मुख्यालय पर पंचायत समिति सभागार में एसडीएम अनूप सिंह ने सरकारी महकमोंं के अधिकारियों की बैठक ली। एसडीएम ने सभी विभागों में लंबित चल रहे प्रकरणों का शीघ्र निस्तारण करने के निर्देश दिए। साथ ही परिवादियों की समस्याओं का त्वरित समाधान करने की बात कही। उन्होंने स्पष्ट कहा कि परस्पर समन्वय स्थापित कर अधिकारी हिण्डौन शहर से लेकर क्षेत्र के गांव-ढाणियों तक विकास कार्यों को गति देने का काम करें। सरकारी योजनाओं के कार्यों में ढील-पोल व आमजन से सीधे तौर पर जुड़े प्रकरणों में कोताही कतई बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
कार्यभार ग्रहण करने के बाद पहली बार एसडीएम ने अधिकारियों की बैठक लेकर भविष्य की प्लानिंग के लिए चर्चा की। उन्होंने कहा कि विजिलेंस कमेटी की बैठक व संपर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों की नियमित समीक्षा होनी चाहिए। आमजन की समस्याओं से संबंधित प्रकरणों को परिवाद के रुप में दर्ज किया जावे। एसडीएम ने कहा कि परिवादी काफी दूर से चलकर आता है, लेकिन समय पर उसे न्याय नहीं मिलता है। परिवाद चाहे झूठा हो, हरेक की जांच गंभीरता से करवा कर उचित समाधान किया जाए। एसडीएम ने शिक्षा विभाग व कृषि विभाग के अधिकारियों को सरकारी विद्यालयों में नरेगा के तहत पौधारोपण कराने, महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को आंगनबाडी केन्द्रों पर किचन गार्डन स्थापित करने के निर्देश दिए। साथ ही शराब की अधिकृत दुकानों की आड़ में चल रही अवैध ब्रांचो पर कार्रवाई के लिए आबकारी निरीक्षक व शहर की यातायात व्यवस्था सुधारने के लिए यातायात प्रभारी व परिवहन अधिकारियों को निर्देशित किया। एसडीएम ने नगरपरिषद आयुक्त को शहर की सफाई व्यवस्था को बेहतर बनाने निर्देश प्रदान किए।

किस विभाग के कितने प्रकरण लंबित-
एसडीएम ने कहा कि अलग-अलग विभागों में आमजन से संबंधित विभिन्न मामलों के 100 से अधिक प्रकरण लंबित हैं। इनमें कई तो लंबे समय से चल रहें हैं। उन्होंने बताया कि हिण्डौन तहसील में कार्यालय में 32, सूरौठ तहसील कार्यालय में 12, विद्युत निगम कार्यालय में 60, जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग में आठ, पंचायत समिति हिण्डौन के आठ, नगरपरिषद में नौ प्रकरण व पुलिस विभाग में चार प्रकरण लंबित चल रहे हैं।

ये अधिकारी रहे मौजूद-
बैठक में तहसीलदार मनीराम खींचड़, नगरपरिषद आयुक्त कीर्ति कुमारी, पंचायत समिति विकास अधिकारी राजेन्द्र गुप्ता, एबीईओ दयाल सिंह सोलंकी, बीसीएमओ डॉ. श्याम सिंघल, पीएमओ डॉ. नमोनारायण मीणा, विद्युत निगम के अधिशासी अभियंता रुपसिंह जाटव, सहायक अभियंता केके शर्मा, कृषि उपज मंडी सचिव राजेश कर्दम, आयुर्वेद चिकित्सालय प्रभारी डॉ. प्रमोद शर्मा, नई मंडी थाना प्रभारी दिनेशचंद मीणा, कोतवाली प्रभारी गिर्राज प्रसाद, सूरौठ थानाप्रभारी बालकृष्ण चौधरी, श्रीमहावीजी थानाप्रभारी धर्मसिंह, यातायात प्रभारी अजीत सिंह आदि मौजूद थे।

Anil dattatrey Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned