केन्द्रों की सूरत सुधार कायाकल्प में बढ़ाएं रैंक

केन्द्रों की सूरत सुधार कायाकल्प में बढ़ाएं रैंक

Dinesh Kumar Sharma | Updated: 17 Jul 2019, 12:18:49 AM (IST) Karauli, Karauli, Rajasthan, India

करौली. चिकित्सा संस्थानों के कायाकल्प पर एक दिवसीय आमुखीकरण कार्यशाला यहां एएनएम ट्रेनिंग सेन्टर में सीएमएचओ डॉ. दिनेशचंद मीना की अध्यक्षता में आयोजित हुई।

करौली. चिकित्सा संस्थानों के कायाकल्प पर एक दिवसीय आमुखीकरण कार्यशाला यहां एएनएम ट्रेनिंग सेन्टर में सीएमएचओ डॉ. दिनेशचंद मीना की अध्यक्षता में आयोजित हुई।

इस दौरान कायाकल्प के लिए निर्धारित बिंदुओं के बारे में पीपीटी के माध्यम से स्टेट क्वालिटी सैल से यतेन्द्र शर्मा व डीपीएम आशुतोष पांडेय ने जानकारी दी। इस मौके पर सीएमएचओ ने संभागियों से कहा कि चिकित्सा संस्थाओं के निरीक्षण दौरान बायोबेस्ट निस्तारण की प्रक्रिया में खामी पाई जा रही है, जो कि कायाकल्प के अंक स्तर को नीचे करती है। वहीं चिकित्सा संस्थानों पर उचित रिकार्ड संधारण नहीं हो पाना भी ठीक नहीं है।

जिले के सभी चिकित्सा प्रभारी इन स्थितियों में सुधार कर अपने संस्थान को 70 प्रतिशत अंकों तक पहुंचाने में भागीदार बने। उन्होनें कहा कि चिकित्सा प्रभारी स्टाफ को कायाकल्प में मिलने वाली ग्रेडिंग के लिए अधिनस्थ स्टाफ को अवगत कराएं। उन्होंने दो दिवस में कायाकल्प की चैक लिस्ट भरकर भिजवाने के निर्देश दिए। स्टेट क्वालिटी सैल से हैल्थ मैनेजर यतेन्द्र शर्मा ने कायाकल्प के अन्तर्गत आने वाले बिन्दुओं की जानकारी दी।

जिला कार्यक्रम प्रबंधक आशुतोष पांडेय ने कायाकल्प की चैक लिस्ट के प्वांइटों के बारे में बताते हुए कहा कि इसमें जिले की सभी संस्थाओं पर उपलब्ध संसाधन एवं उनके उपयोग के आधार पर नंबर दिए जाते हैं। इस दौरान डिप्टी सीएमएचओ (प.क.) डॉ. मनीष गुप्ता, डीएनओ रूपसिंह, जिला आईईसी समन्वयक लखनसिंह लोधा सहित चिकित्सा प्रभारी मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned