कैलामाता के दरबार में बह रही आस्था की बयार

कैलामाता के दरबार में बह रही आस्था की बयार

Dinesh Kumar Sharma | Publish: Oct, 13 2018 07:39:59 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 07:40:00 PM (IST) Karauli, Rajasthan, India

www.patrika.com

करौली. उत्तरभारत प्रसिद्ध कैलादेवी आस्थाधाम में शारदीय नवरात्र के चलते जगतजननी मां कैलादेवी के दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं की खूब भीड़ उमड़ रही है।

इसके चलते आस्थाधाम माता के जयकारों से गुंजायमान हो रहा है। प्रदेश के विभिन्न शहरों के अलावा अन्य प्रदेशों से भी श्रद्धालु माता के दर्शनों को पहुंच रहे हैं। शारदीय नवरात्र में अनेक श्रद्धालु माता के धाम में देवी के अनुष्ठान कर रहे हैं।

वहीं कैलामाता मंदिर में भी घट स्थापना के बाद से ही धार्मिक अनुष्ठान किए जा रहे हैं। नवरात्र के चलते कस्बे की धर्मशालाएंं श्रद्धालुओं से भरी हैं। वहीं दुकानों पर लांगुरियों गीतों के स्वर गूंज रहे हैं। जिला प्रशासन के अनुसार चार दिन से चल रहे नवरात्र में अब तक करीब 5 लाख श्रद्धालु माता के दर्शन कर चुके हैं।

माता के दर्शनों के लिए प्रदेश के अलावा उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, हरियाणा आदि प्रदेशों के विभिन्न शहरों से वाहनों एवं पदयात्रा करके श्रद्धालु कैलादेवी आए हैं।

दर्शनार्थी मंदिर परिसर में दीप प्रज्वलित कर अपनी मनोकामना के लिए मां की आराधना कर रहे हैं। इधर उपखण्ड अधिकारी एवं मेला मजिस्ट्रेट जगदीश प्रसाद गौड़ ने बताया कि मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को जिला प्रशासन की ओर से सुविधाएं उपलब्ध कराईं जा रही है।

इधर शारदीय नवरात्र के चलते जिला मुख्यालय पर धार्मिक आयोजनों की धूम मची है। जगह-जगह हो रहे धार्मिक आयोजनों से भक्तिरस बरस रहा है।

मंदिरों में हनुमान पाठ एवं देवी मां के अनुष्ठान किए जा रहे हैं। वहीं कई जगह दुर्गा मां की प्रतिमा की स्थापना कर दुर्गा महोत्सव का आयोजन चल रहा है। हनुमान मंदिरों में चौपाईयों के स्वर गूंज रहे हैं, वहीं देवी मंदिरों में माता की अनुष्ठान हो रहे हैं।

यहां चौबे पाड़ा में दुर्गा महोत्सव में हो रहे धार्मिक आयोजनों में बड़ी संख्या में श्रद्धालु भाग ले रहे हैं। चौबे पाड़ा भक्त मण्डी की ओर से मण्डल की ओर से आयोजित महोत्सव में प्रतिदिन शाम को महाआरती का आयोजन होता है।

महाआरती में बड़ी संख्या में महिला-पुरुष भाग ले रहे हैं। 10 अक्टूबर से हुई स्थापना के साथ ही पं. गिरिश शास्त्री पूजा-अर्चना करा रहे हैं। दिन में तीन बजे से प्रवचन होते हैं। रात को महाआरती के बाद भजन संध्या होता है।

इससे क्षेत्र का माहौल धर्ममय बना हुआ है। आयोजन में राम शर्मा, सुनील शुक्ला, अजय चतुर्वेदी, केशव भारद्वाज, संतोष शर्मा, विजय चतुर्वेदी, अमर, नितिन आदि द्वारा व्यवस्थाएं संभाली जा रही हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned