पदमपुरा में भागवत कथा

पदमपुरा में भागवत कथा
गुढ़ाचन्द्रजी के पदमपुरा गांव में निकलती कलश यात्रा।

Jitendra Sharma | Publish: Jul, 26 2019 12:57:39 PM (IST) Karauli, Karauli, Rajasthan, India

गुढ़ाचन्द्रजी. पदमपुरा गांव के गिरिराज धरण मंदिर पर जनसहयोग से भागवत कथा शुरू हुई। इस मौके पर निकली कलशयात्रा से माहौल भक्तिमय हो गया। बैंडबाजों व आतिशबाजी के बीच १०१ महिलाएं जलकलशों को सिर पर रखकर चल रही थी।

गुढ़ाचन्द्रजी. पदमपुरा गांव के गिरिराज धरण मंदिर पर जनसहयोग से भागवत कथा शुरू हुई। इस मौके पर निकली कलशयात्रा से माहौल भक्तिमय हो गया। बैंडबाजों व आतिशबाजी के बीच १०१ महिलाएं जलकलशों को सिर पर रखकर चल रही थी। भागवतकथा आचार्य विष्णुकांत शास्त्री घोड़ी पर सवार थे। प्रधान कलश को उर्मिला देवी शर्मा व प्रधान ध्वज को राधेश्याम गुप्ता लेकर चल रहे थे। इससे पहले सह आचार्य ने श्रद्धालुओं से ध्वजपूजन के साथ गणेश पूजन, भागवत पूजन कराया। आयोजन समिति के संत गोविन्ददास महाराज व हरीदासजी महंत ने बताया कि कथा का समापन १ अगस्त को होगा। पहले दिन आचार्य ने भागवत कथा का महात्म्य बताते हुए कहा कि भागवत सुनने से मन के विकार दूर होते है। (पत्रिका संवाददाता)
कन्याओं को कराया भोजन
मण्डरायल. अच्छी बारिश की कामना को लेकर रोधई मोड़ के पास संचालित विनायक आदर्श विद्या मंदिर में ५०० कन्या लांगुरियों को भोजन कराया। व्यवस्थापक राजेश्वर शर्मा ने बताया कि भोजन में स्कूल के अलावा आसपास के बच्चे भी शामिल थे। इस दौरान प्रधानाचार्य सुनील भारद्वाज, संतोष गवारिया, ओमप्रकाश डीलर, प्रमोद पहाडिया मौजूद रहे।
मण्डरायल. कस्बे में रोधई मोड़ स्थित विनायक विद्या मंदिर में भोजन करते कन्या लांगुरिया।
पदमपुरा में भागवत कथा
गुढ़ाचन्द्रजी. पदमपुरा गांव के गिरिराज धरण मंदिर पर जनसहयोग से भागवत कथा शुरू हुई। इस मौके पर निकली कलशयात्रा से माहौल भक्तिमय हो गया। बैंडबाजों व आतिशबाजी के बीच १०१ महिलाएं जलकलशों को सिर पर रखकर चल रही थी। भागवतकथा आचार्य विष्णुकांत शास्त्री घोड़ी पर सवार थे। प्रधान कलश को उर्मिला देवी शर्मा व प्रधान ध्वज को राधेश्याम गुप्ता लेकर चल रहे थे। इससे पहले सह आचार्य ने श्रद्धालुओं से ध्वजपूजन के साथ गणेश पूजन, भागवत पूजन कराया। आयोजन समिति के संत गोविन्ददास महाराज व हरीदासजी महंत ने बताया कि कथा का समापन १ अगस्त को होगा। पहले दिन आचार्य ने भागवत कथा का महात्म्य बताते हुए कहा कि भागवत सुनने से मन के विकार दूर होते है। (पत्रिका संवाददाता)

कन्याओं को कराया भोजन
मण्डरायल. अच्छी बारिश की कामना को लेकर रोधई मोड़ के पास संचालित विनायक आदर्श विद्या मंदिर में ५०० कन्या लांगुरियों को भोजन कराया। व्यवस्थापक राजेश्वर शर्मा ने बताया कि भोजन में स्कूल के अलावा आसपास के बच्चे भी शामिल थे। इस दौरान प्रधानाचार्य सुनील भारद्वाज, संतोष गवारिया, ओमप्रकाश डीलर, प्रमोद पहाडिया मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned