शिक्षा के बिना तरक्की नहीं

बालघाट. गुढ़ाचंद्रजी क्षेत्र के आस्था धाम मां अलुंडा देवी मंदिर परिसर में रविवार को आदिवासी मीना समाज का प्रदेश स्तरीय चतुर्थ प्रतिभा सम्मान समारोह हुआ। कार्यक्रम की शुरुआत अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर की

३० प्रतिभाओं को सम्मानित किया
बालघाट. गुढ़ाचंद्रजी क्षेत्र के आस्था धाम मां अलुंडा देवी मंदिर परिसर में रविवार को आदिवासी मीना समाज का प्रदेश स्तरीय चतुर्थ प्रतिभा सम्मान समारोह हुआ। कार्यक्रम की शुरुआत अतिथियों ने दीप प्रज्वलित कर की। कार्यक्रम में विश्राम मीना, डॉ. जयपाल मीना, आईएएस ब्रजमोहन मीना सहित मीना समाज से सम्बन्धित फिल्म जरायम दादरसी के निर्माता प्रभु झरवाल ने भाग लिया। समारोह में 300 से अधिक विद्यार्थियों एवं न्यायिक व प्रशासनिक सेवाओं में चयनित समाज की प्रतिभाओं को प्रशस्ति पत्र सौंप सम्मानित किया गया। मुख्य अतिथि आईएएस बत्तीलाल मीना ने कहा कि जो पार्टी हमारे हितों को ध्यान में रखकर कार्य नहीं करेगी हम उसका बहिष्कार करेंगे। हम ऐसा जनप्रतिनिधि चुने जो हमारी मांगों को लोकसभा व विधानससभा में उठाए। आईएएस विश्राम मीना ने कहा कि शिक्षा के बिना उन्नति संभव नहीं है। कोई भी समाज शिक्षा के बिना तरक्की नहीं कर सकता। ऐसे में शिक्षित होना जरूरी है। समारोह में लोक कलाकारों ने लोकगीतों की प्रस्तुतियां दी। इस अवसर पर आयोजन समिति के सदस्य अदेशभाई परेशान, आईएएस विश्राम मीना, पूर्व आईएएस बृजमोहन मीना, जिला साक्षरता अधिकारी मुकेश मीना, कर्णफूल मीना, पूर्व प्राचार्य डॉ जयपाल मीना, विनायक कॉलेज महवा के संचालक डॉ तेजराम मीना, डॉ डीसी मीना, टोडाभीम पालिका के कनिष्ठ अभियंता रामकिशोर मीना, बनेसिंह रानौली, शिवदयाल पटेल नांगलशेरपुर, सामाजिक कार्यकर्ता मलखान चौधरी, राजेन्द्र तिमवा, मुकेश मीना, कृषि पर्यवेक्षक पिंटू पहाड़ी आदि मौजूद रहे।

Jitendra
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned