फलों की पैदावार में बढ़ रहा रुझान

करणपुर. क्षेत्र के किसानों में फलों की पैदावार में रुचि बढ़ रही है। यहां से करीब ढाई किमी दूर कोंडरी गांव में किसान फलों की पैदावार कर रहे हैं। इस नवाचार से फलों की पैदावार बढ़ रही है। कोंडऱी के रामधन माली ने आधा बीघा में केला व आधा बीघा में अन्य फलों के पौधे लगाए हैं। उन्होंने बताया कि फलों की पैदावार में अच्छा मुनाफा है। उनके नवाचार से अन्य किसानों में भी फलों की खेती के प्रति रुचि बढ़ रही है।

By: Jitendra

Published: 09 Jun 2021, 07:57 PM IST



करणपुर. क्षेत्र के किसानों में फलों की पैदावार में रुचि बढ़ रही है। यहां से करीब ढाई किमी दूर कोंडरी गांव में किसान फलों की पैदावार कर रहे हैं। इस नवाचार से फलों की पैदावार बढ़ रही है। कोंडऱी के रामधन माली ने आधा बीघा में केला व आधा बीघा में अन्य फलों के पौधे लगाए हैं। उन्होंने बताया कि फलों की पैदावार में अच्छा मुनाफा है। उनके नवाचार से अन्य किसानों में भी फलों की खेती के प्रति रुचि बढ़ रही है।
परम्परागत खेती से अलग नया करने की चाह
किसान रामधन ने बताया कि परम्परागत खेती से अलग हटकर कुछ नया करने की चाह में उसने फलों की पैदावार की ठानी। इसके लिए उसने भूमि को इस योग्य बनाया। कड़ी मेहनत के बाद फलों के पौधे विकसित होने लगे हैं। यहां के केले की मिठास के लोग दिवाने हैं। केले की बहुत ही गुणवत्तापूर्ण पैदावार होती है।
उद्यान विभाग के अधिकारी ले चुके जायजा
रामधन माली ने अपने बगीचे में केले के अलावा बादाम, मौसमी, नींबू, पपीता, चीकू, अंगूर के पेड़ लगा रखे हैं। उन्होंने बताया कि वह अन्य किसानों को भी फलों की खेती के लिए प्रेरित कर रहे हैं। जिससे उनका आर्थिक स्तर मजबूत हो सके वहीं करणपुर क्षेत्र भी फलों की पैदावार में अपनी पहचान बनाए। उद्यान विभाग के अधिकारी करीब एक साल पहले बगीचे का जायजा ले चुके हैं। उद्यान विभाग के अधिकारियों ने उनको फलों की पैदावार के गुर सिखाए वहीं पेड़ों को रोगों से बचाने की जानकारी दी। यह करौली जिले में दूसरी जगह है जहां केले की खेती होती है। इसके अलावा नादौती में भी केले की खेती होती है। बगीचे में आधा दर्जन बादाम के पेड़ है। पिछले साल पन्द्रह किलो बादाम हुई थी।
किसानों के लिए प्रेरणास्रोत
रामधन माली ने बताया कि उनका फलों का बगीचा अन्य किसानों के लिए प्रेरणा स्रोत है। वह अन्य किसानों को भी फलों की पैदावार से जोड़ रहे हैं। किसानों के लिए प्रेरणास्रोत का कार्य कर रहे हैं।

Jitendra Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned